breaking news New

डोर-टू-डोर जाकर आयुष्मान कार्ड बनाएं : कलेक्टर

डोर-टू-डोर जाकर आयुष्मान कार्ड बनाएं : कलेक्टर

क्षेत्र के आदिवासी प्राधिकरण के काम प्राथमिकता के साथ शीघ्र करें

महासमुंद । जिले में सभी धान उपार्जन केन्द्रों में धान की आवक में तेजी आने लगी है। प्रतिदिन 2 लाख क्विंटल खरीदी का लक्ष्य निर्धारित कर पूरी पारदर्शिता के साथ धान खरीदी करें। जिन उपार्जन केन्द्रों में रास्तें ठीक नहीं है, वहां समतलीकरण आदि कराएं।

ताकि धान का उठाव करने आने वाले वाहन सुगमता से उपार्जन केन्द्र में पहुंच सकें। उन्होंने क्षेत्र के आदिवासी प्राधिकरण के काम प्राथमिकता के साथ शीघ्र करने कहा। समय-सीमा के भीतर सभी प्रकरणों को 31 दिसंबर तक निराकरण करने के लिए निर्देशित किया। उन्होंने कहा कि कोई भी प्रकरण इस अवधि के बाद लम्बित न रहें इस बात का ध्यान रखें। उक्त निर्देश कलेक्टर डोमन सिंह ने समय-सीमा की बैठक में दिए।

बैठक कलेक्टर की अध्यक्षता में कलेक्टोरेट के महानदी सभाकक्ष में आयोजित थी। उन्होंने बहुविकलांग केन्द्र में अवलोकन के दौरान पाया कि बच्चों के लिए टेलीविजन, गरम पानी के लिए गीजर आदि नहीं था।

उन्होंने उप संचालक समाज कल्याण एवं जिला स्वास्थ्य अधिकारी को तुरंत स्थापित करने के निर्देश दिए। कलेक्टर सिंह ने कहा कि पिथौरा, बसना और बागबाहरा के पात्र हितग्राहियों को कोविड की दूसरी डोज शत-प्रतिशत लगायी जा चुकी है।

वहां पर अब आयुष्मान कार्ड बनाने में तेजी लाएं। डोर-टू-डोर जाकर पहले नगरीय क्षेत्र को कवर करें। बैठक में वनमण्डलाधिकारी पंकज राजपूत, मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत एस आलोक, अनुविभागीय अधिकारी राजस्व भागवत जायसवाल, अपर कलेक्टर सहित डिप्टी कलेक्टर एवं विभिन्न विभागों के जिला स्तरीय अधिकारी उपस्थित रहे। कलेक्टर ने सीईओ जनपद को कहा कि जहां गौठान शुरू नहीं हुए हैं।

वहां आगामी सोमवार तक शुरू कर दिए जाए। उन्होंने जिला खनिज न्यास से स्वीकृत कार्यों को तेजी के साथ पूरा करें। उन्होंने प्रभारी सचिव द्वारा भंवरपुर भ्रमण के दौरान दिए निर्देशों के तहत की गई कार्यवाही की जानकारी ली। बैठक में बारी-बारी से लंबित प्रकरणों के निराकरण की जानकारी ली।