breaking news New

देश में 53 करोड़ से ज्यादा लोगों को लगी कोरोना वैक्सीन

देश में 53 करोड़ से ज्यादा लोगों को लगी कोरोना वैक्सीन

नई दिल्ली। कोरोना बचाव के लिए जारी टीकाकरण को दो दिन बाद यानि 16 अगस्त को सात महीने पूरे हो जाएंगे। अभी तक 53 करोड़ से अधिक लोगों का टीकाकरण हो चुका है लेकिन अगर राज्य और खुराक वार टीकाकरण की स्थिति देखें तो आंकड़े अभी भी बड़ी आबादी का वैक्सीनेशन न होने पाने की तस्वीर दिखा रहे हैं।

इतना ही नहीं, हर किसी को वैक्सीन देने की जल्दबाजी में दूसरी खुराक का टीकाकरण भी काफी तेजी से पीछे जा रहा है। आंकड़ों के अनुसार 22 राज्यों में हर तीसरा व्यक्ति कोरोना वैक्सीन ले चुका है। इन लोगों ने वैक्सीन की एक खुराक हासिल कर ली है लेकिन दूसरी खुराक का अंतर काफी है। हिमाचल प्रदेश सहित सात राज्यों में दोनों खुराक के बीच अंतर 40 फीसदी से भी अधिक है। दिल्ली में 17 और यूपी में सिर्फ 4 प्रतिशत को दोनों खुराकें लगाई जा चुकी हैं।दादर नागर हवेली में 95 फीसदी को एक खुराक लग चुकी है जबकि सिर्फ 13 फीसदी को दोनों खुराकें मिली हैं। के अलावा लक्षद्वीप, सिक्किम, गोवा, लद्दाख, चंडीगढ़ और हिमाचल प्रदेश में 60 फीसदी से अधिक आबादी को एक खुराक मिल चुकी है लेकिन दूसरी खुराक का टीकाकरण यहां अधिकतम 25 फीसदी आबादी का हुआ है। दिल्ली में 43 फीसदी आबादी को एकल और केवल 17 फीसदी आबादी के दोनों खुराक लेने की पुष्टि की है।  उत्तर प्रदेश में 20 फीसदी को एक खुराक जबकि चार फीसदी को दोनों मिली हैं। सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया के चेयरमैन साइरस पूनावाला ने कहा है कि कोविशील्ड की दो खुराक के बीच दो माह का अंतर अच्छा है। साथ ही कहा कि छह महीने बाद एक और डोज लेना चाहिए। लांसेट जर्नल में प्रकाशित एक रिपोर्ट में कहा गया है कि कोरोना के खिलाफ कुछ समय बाद एंटीबॉडी कम होने लगती है। इस पर पूछे गए सवाल पर पूनावाला ने कहा, यह सच है कि छह माह बाद एंटीबॉडी घटने लगती है, इसलिए हम तीसरी खुराक लेते हैं। पूनावाला ने दो अलग-अलग वैक्सीन की डोज लेने का भी विरोध किया। हाल में आईसीएमआर ने टीके की मिश्रित खुराक लेने का सुझाव दिया था। 

12 दिन में तीन करोड़ से ज्यादा वैक्सीन भेजीं राज्यों को

एक ओर कोरोना टीकाकरण में उतार-चढ़ाव जारी है। वहीं दूसरी ओर राज्यों के पास पर्याप्त वैक्सीन होने का केंद्र सरकार दावा कर रही है। शुक्रवार को केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने 59 लाख वैक्सीन की नई खेप जारी करते हुए बताया कि बीते 12 दिन में करीब तीन करोड़ से अधिक खुराकें राज्यों को भेजी जा चुकी हैं।

फिलहाल राज्यों के पास 2.82 करोड़ से अधिक खुराक भंडारण में उपलब्ध हैं जिनका इस्तेमाल कोविड टीकाकरण में किया जाना है। मंत्रालय ने यह भी जानकारी दी है कि अब तक राज्यों को भेजीं 55.01 करोड़ से अधिक खुराकों में 52.59 करोड़ की खपत हो चुकी है। वहीं कोविन वेबसाइट की मानें तो पिछले एक दिन में 57.15 लाख लोगों ने वैक्सीन लिया है जोकि बीते सोमवार, मंगलवार और बुधवार की तुलना में सर्वाधिक है। टीकाकरण 53.14 करोड़ से अधिक हो चुका है जिनमें से 11.74 करोड़ लोग दोनों खुराक लेकर टीकाकरण पूरा कर चुके हैं। शुक्रवार को भी शाम तीन बजे तक 30 लाख से अधिक लोगों ने टीकाकरण करवाया। हालांकि साप्ताहिक स्थिति देखें तो अभी भी टीकाकरण का ग्राफ ऊपर-नीचे जाता दिखाई दे रहा है।