breaking news New

मध्यप्रदेश में एक जून से अनलॉक की प्रक्रिया शुरू करने की कवायद तेज

मध्यप्रदेश में एक जून से अनलॉक की प्रक्रिया शुरू करने की कवायद तेज

भोपाल, 29 मई। कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर के भयानक प्रकोप के कारण पिछले डेढ़ माह से अधिक समय से लागू कोरोना कर्फ्यू में अब धीरे धीरे 01 जून से रियायत देने की प्रक्रिया शुरू करने के बीच प्रशासनिक स्तर पर कवायद तेजी से चल रही हैं।

आधिकारिक सूत्रों के अनुसार मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने इसी क्रम में राज्य के लगभग सभी संभागों का दौरा कर कोरोना संक्रमण की स्थिति का जायजा हाल के दिनों में लिया और मैदानी अमले के साथ ही संबंधित वरिष्ठ अधिकारियों और जनप्रतिनिधियों को आवश्यक दिशा निर्देश दिए।

इसी क्रम में वे आज शाम सभी 52 जिलों में जनजीवन सामान्य करने के प्रयासों के संबंध में सभी जिलों के कोविड प्रभारी मंत्रियों, राज्य स्तरीय प्रभारी अधिकारियों, संभागीय आयुक्तों, पुलिस महानिरीक्षक, कलेक्टर और पुलिस अधीक्षकों से वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से चर्चा करेंगे।

सूत्रों ने कहा कि श्री चौहान इसके बाद प्रतिदिन की तरह कोरोना नियंत्रण की स्थिति के संबंध में समीक्षा बैठक लेंगे।

श्री चौहान ने मंत्रियों के अलग अलग समूह बना दिए हैं, जो जनजीवन सामान्य करने से जुड़े विभिन्न महत्वपूर्ण क्षेत्रों के बारे में गहन विचार विमर्श कर रणनीति बना रहे हैं।

जैसे बाजार खोलने की स्थिति में किस क्षेत्र की दुकानों को प्राथमिकता देना है।

शैक्षणिक संस्थाओं, सार्वजनिक वाहनों के संचालन और अन्य इसी तरह के मुद्दों पर से समूह चर्चा कर रहे हैं।

इनके अलावा अन्य महत्वपूर्ण बिंदुओं पर भी चर्चा की जा रही है।

कुल 52 में से कम संक्रमण वाले 5 जिलों में 25 मई से ही कुछ रियायतें दी गयी हैं और वहां कोरोना संक्रमण की स्थिति पर नजर रखी जा रही है।

एक जून से अन्य जिलों में रियायत देने के बारे में इन जिलों के अनुभवों को भी ध्यान में रखा जाएगा।

राज्य के सभी 52 जिलों में अप्रैल माह के दूसरे सप्ताह से कोरोना कर्फ्यू लागू है।

सरकार का प्रयास है कि अब एक जून से धीरे धीरे सामान्य जनजीवन की शुरूआत के प्रयास किए जाएं।