breaking news New

सुकमा कलेक्टर पहुंचे कोण्टा सुन्नमगुड़ा गोठान का किया निरीक्षण

सुकमा कलेक्टर पहुंचे कोण्टा सुन्नमगुड़ा गोठान का किया निरीक्षण


निर्माणाधीन स्वामी आत्मानंद स्कूल का औचक निरीक्षण किया

दोरनापाल।  शासन की मंशानुरूप सुकमा जिले के समस्त गौठानों को मल्टी एक्टीविटी केन्द्र के रूप में स्थापित करने पर जोर दिया जा रहा है। कलेक्टर विनीत नन्दवार ने सभी गौठानों में महिला समूह द्वारा विभिन्न आजीविका मूलक गतिविधियां जैसे साग-भाजी उत्पादन, मशरूम उत्पादन, मुर्गी पालन, शबरी लेयर फार्मिंग अन्तर्गत अण्डा उत्पादन आदि को निरन्तर रूप से क्रियाशील रखने के निर्देश सभी गौठान प्रभारियों, नोडल अधिकारियों को दिए हैं। 

इसी अनुक्रम में आज नंदनवार ने कोन्टा ब्लॉक के ग्राम पंचायत ढोण्ढरा के सुन्नमगुड़ा गौठान में संचालित की जा रही गतिविधियों का अवलोकन किया। उन्होंने गोठान में निर्मित नाडेप टैंक एवं वर्मी कम्पोस्ट खाद निर्माण हेतु बनाए गए वर्मी टांका का अवलोकन कर गुणवत्तापूर्ण कम्पोस्ट खाद तैयार किये जाने के निर्देश दिए। संबंधित अधिकारियों व गोठान प्रभारी से चर्चा कर गोठान में गोबर खरीदी के साथ-साथ वर्मी कम्पोस्ट उत्पादन का संज्ञान लिया। उन्होंने गोठान में महिला स्व-सहायता समूह के माध्यम से सब्जी उत्पादन, फलदार वृक्षों के रोपण एवं अन्य आजीविका मूलक गतिविधियों को प्राथमिकता से संचालित करने हेतु निर्देशित किया।


इसके साथ ही कलेक्टर ने धान खरीदी केंद्र पहुंच कर किसानों से विस्तृत चर्चा की।  कोन्टा व एर्राबोर धान खरीदी केन्द्र में बारदाने की उपलब्धता, धान की गुणवत्ता, टोकन काटने की प्रक्रिया के साथ ही अन्य व्यवस्थाओं का जायजा लिया। उन्होंने समितियों में किसानों के धान को तौलते समय तौल का पूरा ध्यान रखने और वास्तविक किसानों का ही धान खरीदने के निर्देश दिए। इसके साथ ही धान विक्रय करने वाले कृषकों की एण्ट्री तत्काल पार्टल पर अद्यतन करने को कहा।


इस दौरान एसडीएम कोण्टा बनसिंह नेताम,  सीईओ जनपद पंचायत कोण्टा कैलाश कश्यप एसडीओपी कोन्टा गिरिजा शंकर साव, बीईओ कोन्टा एसके दीप, बीआरसी कोन्टा महेन्द्र बहादुर सिंह सहित अन्य अधिकारीगण उपस्थित थे।