breaking news New

सडक़ पर जीने को मजबूर खरगोन दंगों के प्रभावितों की मदद करेगी शिवराज सरकार

सडक़ पर जीने को मजबूर खरगोन दंगों के प्रभावितों की मदद करेगी शिवराज सरकार

भोपाल।  मध्य प्रदेश के खरगोन जिले में भडक़ी हिंसा में कई परिवारों की जिंदगी को बुरी तरह प्रभावित किया है, कोई सडक़ पर जीने को मजबूर है तो किसी की रोजी रोटी ही छिन गई है। राज्य सरकार ने ऐसे परिवारों की मदद करने का फैसला किया है, जिनकी संपत्ति को दंगाईयों ने नष्ट किया है या फिर उनको नुकसान पहुंचाया है।

खरगोन में रामनवमीं को निकले जुलूस पर कुछ उपद्रवियों ने पथराव किया था और उसके बाद हिंसा भडक़ी थी। इस हिंसा में बड़े पैमाने पर संपत्ति को नुकसान हुआ है। दंगे और फसादों में उत्पातियों द्वारा जिनकी सम्पत्ति में आग लगाई गई या क्षति पहुंचाई गई, ऐसे मकानों की संख्या 10 है और आंशिक क्षतिग्रस्त मकान 70 हैं। पूर्ण क्षतिग्रस्त मकान सरकार बनाकर देगी और आंशिक क्षतिग्रस्त मकानों की आवश्यक मरम्मत कर उन्हें बेहतर बनाया जाएगा।

दूसरी ओर दंगों में घायल व्यक्तियों के उपचार की नि:शुल्क व्यवस्था सरकार की ओर से की गई है। इस दंगों में 16 लोगों की आजीविका का साधन खत्म हुआ है, इनकी जिंदगी फिर पटरी पर लौट सके इसके लिए सरकार की ओर से मदद दी जाएगी।

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि दंगे, फसाद में नागरिकों के हुए नुकसान की पूरी तरह भरपाई करेंगे। अभी यह व्यवस्था राज्य शासन करेगा। बाद में दंगाइयों से क्षतिपूर्ति करवाई जाएगी।

मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि किसी भी भाई-बहन को संकट के समय में अकेला नहीं रहने देंगे। किसी परिवार में बेटी का विवाह होना था, जो वर्तमान परिस्थितयों में नहीं हो सका, तो उसके लिए भी आवश्यक सहायता दी जाएगी।