breaking news New

निगम के हर क़दम पर भ्रष्टाचार : बिना कोई योजना बनाये, 36 लाख की डस्टबीन ख़रीदी

निगम के हर क़दम पर भ्रष्टाचार : बिना कोई योजना बनाये, 36 लाख की डस्टबीन ख़रीदी


प्रति डस्टबीन सात हज़ार रू की, क़ीमत अत्यधिक ,गुणवत्ता स्तरहीन
निगम निरस्त करे क्रय आदेश,फ़र्म को करें ब्लैक लिस्टेड
- संजय पांडे नेता प्रतिपक्ष

जगदलपुर।  भारतीय जनता पार्टी पार्षद दल को विश्वस्त सूत्रों से ज्ञात हुआ था कि नगर निगम में चौदहवें वित् आयोग के मद से ट्विन डस्टबीन क्रय की गई है ! सप्लायर ने एक पखवाड़े 15 दिवस पूर्व उक्त डस्टबीन को स्थानीय वीर सावरकर भवन पर निगम को सुपुर्द कर डंप कर दिया था !

पांडे ने बताया कि भाजपा पार्षद दल ने अपने प्रयासों से इसका टेक्निकल स्पेसिफ़िकेशन प्राप्त कर मौक़े पर जाकर ट्वीन डस्टबिन का निरीक्षण किया ! उसके गुणवत्ता के संबंधित में जाँच की ! जाँच में यह पाया गया है की दिए गए मानक अनुसार इसकी गुणवत्ता निम्न स्तरीय है ! मानक अनुसार इसकी वॉल्यूम क्षमता 140 लीटर होनी चाहिए थी जोकि कम होकर 130 लीटर है, इसकी लोड वियरिंग कैपेसिटी भी क्षमता से कम 130 लीटर मात्र है ! डस्टबिन की वाल थिकनेस भी वर्नियर कैलिपर्स से नापने पर मानक से कम पाया गया है ! MS स्टैंड का वज़न भी 14 किलो होना चाहिए था मात्र साढ़े 9 किलो है ! बीन मे उपयोग किया गया कलर तथा अन्य उपयोग में ली गई सामग्री भी अति निम्न स्तर की है ! MS रस्ट फ़्री पाइप होना था जोकि साधारण पाइप है!



नेता प्रतिपक्ष ने कहा है कि बिना किसी पूर्व योजना के,जबकि निगम ने यह भी तय नहीं किया है कि यह डस्टबिन कहाँ कहाँ लगायी जावेगी ,आनन फ़ानन में एमआईसी की बैठक कर इसके क्रय की स्वीकृति दे दी गई थी ! प्रति नग 7 हज़ार रुपये की उच्चतम क़ीमत में 522 नग ,कुल 36 लाख रुपये व्यय करना अचंभित करने वाला है! अब जबकि सप्लायर द्वारा इसे 15 दिवस पहले डंप कर दिया गया है इसको खपाने की प्रक्रिया की जा रही है !गुणवत्ताहीन सामग्री बिना योजना के क्रय करना ,जनता के पैसे के बंदरबांट से , एक के बाद एक लगातार भ्रष्टाचार से , जबकि वीड हार्वेस्टर मशीन की जाँच में भी विलंब किया जा रहा है ,भाजपा पार्षद दल आहत है !
संजय पांडे ने कहा है कि आज भाजपा पार्षद दल ने इस आशय का पत्र महापौर और आयुक्त को लिखा है और इस क्रय आदेश को तत्काल निरस्त करने की माँग की गई है ! पत्र में यह भी कहा की जो भी लोग इस कार्य में लिप्त हैं उन पर दंडात्मक कार्रवाई की जाए तथा सप्लाई एजेंसी को ब्लैक लिस्ट करते हुए डोम एवं सीयसआईडीसी तथा इससे संबंधित शासकीय संस्थाओं को भी इस फ़र्म को ब्लैक लिस्टेड करने पत्र लिखा जाने ! अन्यथा भाजपा पार्षद दल उग्र आंदोलन को मजबूर होगा !!
इस दौरान पार्षद नर्सिंग राव, राजपाल कसेर, निर्मल प्रसाद पानीग्राही , तेजपाल शर्मा आदि उपस्थित थे !!