breaking news New

पलारी पुलिस के हाथ लगी बड़ी सफलता, बोलेरो वाहन से भारी मात्रा में पीतल एवं तांबा के तार, प्लेट, स्क्रेप बरामद, एक आरोपी गिरफ्तार

पलारी पुलिस के हाथ लगी बड़ी सफलता, बोलेरो वाहन से भारी मात्रा में पीतल एवं तांबा के तार, प्लेट, स्क्रेप बरामद, एक आरोपी गिरफ्तार


हेमन्त मिश्रा

बलौदाबाजार। पलारी पुलिस ने पीतल व ताँबे से भरी एक बोलेरो को  जाँच के दौरान पकडा जिसमे  पीतल व ताँबा भरा था पुछताछ पर संतोष जनक जवाब नही देने और वाहन मे भरे  सामान के कागजात प्रस्तुत नही कर पाने पर मामला पंजीबद्ध कर आरोपी को किया गिरफ्तार। बोलेरो वाहन मे अलग अलग बोरियो मे लगभग साढे़ छह लाख रू से अधिक का माल था भरा हुआ था ।इस संबध मे पलारी टीआई  सी आर चंद्रा ने बताया कि  सफेद बोलेरो वाहन क्रमांक CG 07 BG 4418 संवारी गाडी में पीतल और तांबे का तार, स्क्रेप लेकर बलौदाबाजार से पलारी की ओर आ रहा है कि सूचना पर हमराह स्टाप एवं गवाहान के थाना के सामने उक्त वाहन को रोककर पूछताछ करने पर वाहन चालक अपना नाम जीवत रूपरेला पिता अनिल रूपरेला उम्र 23 वर्ष साकिन आर्शिवाद भवन के पीछे बैरन बाजार थाना सिटी कोतवाली रायपुर जिला रायपुर छ0ग0 का होना बताये जिसके कब्जे से (1)  08 प्लास्टिक बोरी में पीतल स्क्रेप भरा हुआ वजनी 563 किलो ग्राम किमती 1,68,900/रू0 (2) 20 प्लास्टिक बोरी में तांबा स्क्रेप, वायर, प्लेट वजनी 985 किलो ग्राम किमती 4,92,500/रू0 (3) एक इलेक्ट्रॉनिक तराजू किमती 3,000/रू0 (4) बोलोरो वाहन क्रमांक CG 07 BG 4418 किमती 5,00,000/रू0 जुमला किमती 11,64,400/रू0 रखे मिला जिन्हे धारा 91 जाफौ का नोटिस दिया जो उक्त सामान का बिल, कागजात नही होना लिखित मे पेश किया, उक्त सामान चोरी का होना अन्देशा पर धारा 41(1+4)  जा0फौ0 /379 भादवि कार्यवाही किया गया है, आरोपी का कृत्य अपराध धारा सदर का घटित करना पाये जाने से आरोपी को गिरफ्तार कर न्यायिक रिमांड पर भेजा गया है। ज्ञात हो कि आरोपी बलौदाबाजार से उक्त माल को 18.18 बजे में लेकर निकला था जिसे 18.40 बजे जप्त किया गया है उक्त अपराध से बचने के लिये गोपाल ट्रेडर्स बलौदाबाबाजार का कंप्यूटर कृत बिल पेश किया गया जिसमें समय 09.03 बजे लेख था ऐसा प्रतीत होता है कि पेश किया गया बिल जप्त माल का नहीं है इस संबंध में जांच की जा रही है।


 बता दे कि बलौदाबाजार जिले मे अवैध चोरी के सामानो की बडे पैमाने पर खरीदी बिक्री की जाती है और इसी प्रकार वाहनो के माध्यम से बाहर सप्लाई किया जाता है। देखना अब यह है कि इस मामले के सामने आने के बाद पुलिस आगे और क्या कार्यवाही करती है वही पुलिस यदि थोडी सख्ती दिखाकर पुछताछ करेगी तो कई चौकाने वाले मामले सामने आ सकते है।