breaking news New

राजधानी अस्पताल : पीड़ितों को 10 लाख का मुआवजा दे..कांग्रेस नेता कन्हैया अग्रवाल की मांग..उनकी मुहिम पर ही डॉक्टरों की गिरफतारी हुई..अस्पताल का लाइसेंस भी निरस्त हो

राजधानी अस्पताल : पीड़ितों को 10 लाख का मुआवजा दे..कांग्रेस नेता कन्हैया अग्रवाल की मांग..उनकी मुहिम पर ही डॉक्टरों की गिरफतारी हुई..अस्पताल का लाइसेंस भी निरस्त हो

जनधारा समाचार
रायपुर. प्रदेश कांग्रेस कमेटी के महामंत्री कन्हैया अग्रवाल ने पचपेड़ी नाका रायपुर स्थित राजधानी हॉस्पिटल में आगजनी की घटना के मामले में हॉस्पिटल प्रबंधन के दो डॉक्टरों की गिरफ्तारी का स्वागत करते हुए कहा कि प्रबंधन मृतकों के परिजनों को दस दस लाख रुपये मुआवजा प्रदान करें । आगजनी की घटना के अन्य जिम्मेदार लोगों के खिलाफ भी तत्काल कार्रवाई की जानी चाहिए ।

उन्होंने शासन प्रशासन को कार्रवाई के लिए धन्यवाद ज्ञापित करते हुए कहा कि राजधानी अस्पताल में आगजनी से अब तक सात लोगों की मौतें हो चुकी है लेकिन प्रबंधन ने मृतकों से पूरी तरह पल्ला झाड़ लिया है । अस्पताल में फायर फाइटिंग सिस्टम वर्षों से था ही नहीं उसके बावजूद नर्सिंग होम एक्ट का पालन होना मिलीभगत को स्पष्ट करता है । नर्सिंग होम एक्ट का तथाकथित पालन करने वाले हॉस्पिटल को शासकीय कर्मियों के इलाज के साथ ही स्मार्ट कार्ड डॉ खूबचंद बघेल योजना के तहत भी इलाज के लिए मान्यता दे दी गई थी ।

श्री अग्रवाल ने राजधानी हॉस्पिटल के लाइसेंस को तत्काल निरस्त करने की मांग करते हुए कहा कि हॉस्पिटल प्रबंधन मृतकों के परिजनों को दस दस लाख रुपए का मुआवजा प्रदान करें । उन्होंने कहा कि हॉस्पिटल को अवैधानिक रूप से मदद करने वाले संबंधित विभागीय अफसरों को भी जांच के दायरे में लिया जाना चाहिए । उन्होंने बताया कि राजधानी हॉस्पिटल आगजनी मामले में कार्रवाई के लिए कलेक्टर एवं पुलिस अधीक्षक को ज्ञापन सौंपने के साथ ही स्वास्थ्य सचिव से भी पूरे मामले को संज्ञान में लेने चर्चा की थी ।