दर्दनाक : मां का निधन हुआ तो बेटा रायपुर से बनारस को पैदल ही निकल पड़ा, साथ में दो दोस्त भी निकले

दर्दनाक : मां का निधन हुआ तो बेटा रायपुर से बनारस को पैदल ही निकल पड़ा, साथ में दो दोस्त भी निकले

कोरोना वायरस के मद्देनजर देशभर में लॉकडाउन है. इसी बीच बनारस में एक शख़्स की मां का निधन हो गया. खबर मिलते ही वह पैदल रायपुर से बनारस के लिए निकल पड़ा.

लॉकडाउन के कारण लोग अपने घरों में बंद हैं. कई लोग शहरों में फंस गए हैं। अपने प्रदेश में लौट नहीं पा रहे. यातायात की सुविधा बंद है. फिर रोजगार बंद होने की वजह से पैदल ही सैंकड़ों किलोमीटर की यात्रा तय कर अपने घरों की तरफ लौटने का प्रयास कर रहे हैं.

छत्तीसगढ़ के मुरकीम की भी ऐसी ही कहानी है. दरअसल मुराकीम की मां का देहांत 25 मार्च को हो गया. मुक्रीम की मां की निधन वाराणसी में हुआ है. मां के दुनिया छोड़ जाने की खबर मिलने के बाद मुराकीम अपने दो दोस्तों विवेक और प्रवीण के साथ पैदल ही रायपुर से वाराणसी के लिए निकल पड़ा. मुराकीम और उसके दोस्त बैकंठपुर तीन दिनों में पहुंचे हैं.

मुराकीम के एक दोस्त ने बताया,'' हमने 20 किलोंमिटर का सफर तय किया है. इस बीच कई लोगों से लिफ्ट भी ली. जब हम बैकुंठपुर पहुंचे तो वहां एक दवाई दुकानदार ने हमारी मदद की. जानते चलें कि कोरोना के चलते अब तक 833 मामले सामने आए हैं। इनमें से 90 का इलाज जारी है और 19 की मौत हो चुकी है।