breaking news New

महिलाओं के साथ हो रहे दुष्कर्म और अत्याचार को लेकर मातृशक्ति का एक दिवसीय धरना

 महिलाओं के साथ हो रहे दुष्कर्म और अत्याचार को लेकर मातृशक्ति का एक दिवसीय धरना


गरियाबंद  ।  भाजपा महिला मोर्चा के बैनर तले जिला मुख्यालय में राज्य की कांग्रेस सरकार के खिलाफ छत्तीसगढ़ में महिलाओं के साथ हो रहे दुष्कर्म और अत्याचार के बढ़ते मामले को लेकर मातृशक्ति  स्वाभिमान मार्च   के तहत एक  दिवसीय धरना दिया गया ।

शनिवार को आयोजित भाजपा महिला मोर्चा के इस हल्ला बोल प्रदर्शन में राज्य की कांग्रेस सरकार के विरोध में जमकर भाजपा नेताओं ने आरोप लगाएं, राज्यपाल के नाम नायब तहसीलदार कुसुम प्रधान को ज्ञापन सौंपा गया, महिला मोर्चा के नेताओं ने इस विरोध प्रदर्शन में ज्ञापन देने के दौरान कांग्रेस के विरोध में नारेबाजी की। महिला नेत्री श्रीमती सीमा जांगड़े ने भाजपा प्रवेश किया।

        धरने को संबोधित करते हुए पूर्व सांसद चंदूलाल साहू ने कहा कि राज्य की कांग्रेस सरकार महिलाओं के सम्मान और स्वाभिमान की रक्षा नहीं कर पा रही है महिला उत्पीड़न के मामले बढ़ गए हैं छत्तीसगढ़ में अत्याचार लूट डकैती और अनाचार मैं वृद्धि हुई है। उन्होंने आरोप लगाया कि महिलाओं के साथ हो रही घटनाओं को लेकर राज्य की कांग्रेस सरकार को श्वेत पत्र जारी करना चाहिए क्योंकि अनेक महिलाओं से संबंधित अपराधों में कार्यवाही नहीं की जा रही है इस सरकार से आम जनता त्रस्त है, सुपेबेड़ा किडनी प्रभावित ग्रामीणों को इच्छा मृत्यु की मांग करनी पड़ रही है, छत्तीसगढ़ का दुर्भाग्य है कि मुख्यमंत्री के संरक्षण में अपराध घटित हो रहे हैं ,संगीन अपराधों में अनेक घटनाएं घटित हो चुकी है ,अगर ऐसी स्थिति रही तो इस  कॉन्ग्रेस सरकार के खिलाफ महिलाएं सड़क की लड़ाई लड़ेंगे। छत्तीसगढ़ में कांग्रेस जब से सत्ता में आई है तब से कानून व्यवस्था बदहाल होती जा रही है, प्रदेश के बहन बेटियों के विरुद्ध अनेक अपराध घटित हो रही है ,शांति का टापू कहलाने वाला अपना प्रदेश अशांत हो गया है। समाज के कमजोर तबके की महिलाएं अत्याचार की शिकार हो रही है।

      किसान मोर्चा के छत्तीसगढ़ प्रभारी संदीप शर्मा ने कहा कि छत्तीसगढ़ की नारी शक्ति शक्ति जागृत हो गई है, महिलाओं से किए गए वादे वायदा पूरा करने में यह कांग्रेस की सरकार असफल हो गई है, इस सरकार की नजर में दुष्कर्म की घटनाएं   छोटी लगती है उन्होंने कहा कि कांग्रेस के नामी चेहरे महिलाओं के साथ अनेक घटनाएं कर चुके हैं ,छत्तीसगढ़ की महिलाओं से इस सरकार ने घोषणा पत्र में वायदा किया था शराबबंदी करेंगे लेकिन वह वायदा झूठा निकला है ,सिर्फ सरकार वाहवाही लूटने के कार्य में लगी है ।

        भाजपा जिला अध्यक्ष राजेश साहू ने कहा कि देश में जहां भी कांग्रेस की सरकार है ,अपराध और अपराधी बढ़ गए हैं, भूपेश सरकार माफियाओं को संरक्षण दे रही है। छत्तीसगढ़ की महिलाएं आक्रोशित है। महिलाओं का मान सम्मान सुरक्षित नहीं है।

         भाजपा महिला मोर्चा के जिला अध्यक्ष श्रीमती अंजू नायक ने कहा कि राज्य सरकार ने गंगाजल हाथ में लेकर कसम खाई थी कि छत्तीसगढ़ में शराबबंदी करेंगे, लेकिन शराबबंदी करना तो दूर महिलाओं के साथ अत्याचार किए जा रहे हैं ,और सरकार खामोश बैठी है, आने वाले समय में इस सरकार को महिलाएं सबक  सिखाएंगे, जसपुर कोरबा महासमुंद सहित अनेक क्षेत्रों में महिलाओं के साथ घटनाएं हुई है, इसके लिए राज्य सरकार की निंदा करते हैं। कोरबा जनजाति के परिवार के साथ अत्याचार की घटनाएं की गई हैं।

       कार्यक्रम को पूर्व जिला अध्यक्ष रामकुमार साहू, जिला महामंत्री अनिल चंद्राकर, भाजयुमो के जिला अध्यक्ष योगीराज कश्यप, जिला मंत्री मिलेश्वरी साहू, मंडल अध्यक्ष सुरेंद्र सोनटेके, जनपद अध्यक्ष लालिमा ठाकुर, जनपद अध्यक्ष छुरा तारकेश्वरी मांझी, बिंदु सिन्हा, योगिता मांझी, देवकी साहू, सोम प्रकाश साहू, मुकेश दासवाणी, हेमलता ध्रुव, ख़िरमनी हरपाल, संतोषी श्रीवास्तव, जनपद सदस्य मीरा साहू, जनपद सदस्य हेमलता ध्रुव, देवकी साहू, ताकेश्वरी साहू इत्यादि ने संबोधित किया

        इस अवसर पर जिला पंचायत सदस्य केसरी ध्रुव, रेणुका साहू, देवसिर सिन्हा, मधु नथानी, पुष्पा साहू, सरिता सेन, पद्मा यदु, गुलेश्वरी ठाकुर, भारती सोनी, सुनीता साहू, नादिया खान, मनीषा साहू, कांति साहू,अनिता यादव, चित्ररेखा ध्रुव, लोकेश्वरी निषाद, शांति साहू, रूखमणी साहू, शारदा मानिकपुरी, वैजंती मानिकपुरी, मानकुंवर, सरिता श्रीवास,  लक्ष्मी श्रीवास्तव, सरिता श्रीवास्तव, सरिता सेन,  सावित्री दास, राधेश्याम सोनवानी, धनंजय नेताम, पारस ठाकुर, प्रीतम सिन्हा, विकास साहू, हरमन ध्रुवा, आनंद ठाकुर, वंश सिन्हा, तोरण सागर, सागर मायनी, चंदन साहू, दीपक तिवारी, तानसिंह मांझी इत्यादि उपस्थित थे।