यमुना के किनारे जमा हुए हजारों की संख्या में दिहाड़ी मजदूर, सोशल डिस्टेंसिंग की उड़ा रहे धज्जियां

यमुना के किनारे जमा हुए हजारों की संख्या में दिहाड़ी मजदूर, सोशल डिस्टेंसिंग की उड़ा रहे धज्जियां

नईदिल्ली। देश में लॉक डाउन - २ का पीएम नरेंद्र मोदी ने मंगलवार 14 अप्रैल को ऐलान किया था।    कोरोना के मामलों में तेजी से इजाफा हो रहा है।  वहीं दिल्ली  में यमुना नदी के किनारे हजारों की संख्या में दिहाड़ी मजदूर जमा हो चुके हैं।  यहां सोशल डिस्टेंसिंग की जमकर धज्जियां उड़ा रही है। इन्हें दिल्ली के अलग अलग शेल्टर होम ले जाने की कोशिश हो रही है।  हालांकि फिलहाल ये साफ नहीं है कि ये सारे प्रवासी मजदूर अपने अपने राज्यों में जाने के लिए यहां इक्ट्ठा हुए हैं।   यहां सोशल डिस्टेंसिंग का पालन बिलकुल नहीं हो रहा है। 

देश में कोरोना के 11,933 केस हैं।  वहीं, 392 लोगों की मौत भी हो चुकी है, जबकि 1344 मरीज ठीक होकर अपने घरों को लौट चुके हैं। उधर, देश में कोरोना संकट के चलते लॉकडाउन की अवधि 3 मई तक बढ़ाई जा चुकी है।  यानि पाबंदियां अभी 19 दिन और जारी रहेंगी।  इसका ऐलान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कल किया।

chandra shekhar