breaking news New

धर्मशाला के भागसू में फटा बादल: देखते ही देखते नाला बन गया नदी,कई लग्जरी वाहन बह गए

 धर्मशाला के भागसू में फटा बादल: देखते ही देखते नाला बन गया नदी,कई लग्जरी वाहन बह गए

धर्मशाला । हिमाचल प्रदेश के पर्यटन क्षेत्र भागसू में सोमवार सुबह बादल फटने से अचानक बाढ़ (फ्लैश फ्लड) आ गई। देखते ही देखते एक छोटे से नाले ने नदी का रूप धारण कर लिया। बाढ़ के कारण भागसू का नाला ओवरफ्लो हो गया। इस नाले में उफान आने के कारण जलप्रवाह में कई लग्जरी वाहन बह गए। इस नाले के साथ दोनों ओर कई होटल भी लगते हैं। बादल फटने से इन होटलों को भी नुकसान पहुंचा है।
पर्यटन स्थल मैक्लोडगंज के भागसू नाग के मुख्य बाजार में कई वाहन बह गए हैं। इसके साथ ही मांझी खड्ड भी पूरी तरह से उफान पर है। उफान में चल रही मांझी खड्ड से चैतडू के बाजार में 10 दुकानें व 7 मकान जलप्रवाह में बह गए हैं और चैतडू के समीप खड्ड के किनारे रह रहे प्रवासी मजदूरों की लगभग 100 झुग्गियां बह गई हैं। प्रवासी मजदूरों ने जंगल में पनाह ली है। वहीं शिला स्कूल में पानी पूरी तरह से भर गया है। इसी तरह बनेर और चरान खड्ड भी उफान पर हैं।
चैतडू पंचायत के उपप्रधान संदीप कुमार ने बताया कि प्रशासन को नुकसान व प्रभावितों के संबंध में सूचना दी है। चैतडू निवासी सुनीता देवी ने बताया कि उनका मकान, कार व स्कूटी पानी के बहाव में बह गए हैं। उनके पति संतोष कुमार ने बताया कि कुल 1.5 करोड़ रुपए का नुकसान हुआ है। मंडी पठानकोट हाईवे पर राजोल में गज खड्ड पर बना पुल क्षतिग्रस्त हो गया है। यहां पुलिस तैनात कर दी गई है व वाहनों की आवाजाही पूरी तरह से रोक दी है। हाईवे पर वाहनों की लंबी कतारें लग गई हैं। कुछ वाहन चालक वैकल्पिक मार्ग से आवाजाही कर रहे हैं, लेकिन संपर्क मार्गों पर ल्हासे गिरने से आवाजाही मुश्किल हो गई है। बरसात के सीजन की पहली ही बारिश ने जिला कांगड़ा में जमकर कहर बरपाया है।
सुबह करीब आठ बजे पर्यटन स्थल मैक्लोडगंज के भागसूनाग से ऊपर एक न ने अपना रुख बदल लिया। नाला डायवर्ट होने के कारण भागसूनाग मंदिर मार्ग पर स्थित पार्किंग की ओर पानी बहने लगा और वहां पार्किंग के साथ लगी चार कारें और कई बाइक बह गईं। इसके अलावा भागसूनाग स्कूल को भी काफी नुकसान हुआ है। पानी के बहाव के कारण वहां साथ लगते होटल भी पानी से लबालब हो गए हैं।