breaking news New

मुख्यमंत्री ने कहा - बलिदानियों को याद करना जरूरी: रघुनाथ शाह, शंकर शाह, रानी दुर्गावती आदि का बलिदान इतिहास में दर्ज

मुख्यमंत्री ने कहा - बलिदानियों को याद करना जरूरी: रघुनाथ शाह, शंकर शाह, रानी दुर्गावती आदि का बलिदान इतिहास में दर्ज

भोपाल।   मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि बलिदानियों का स्मरण जरूरी है। भोपाल में रानी कमलापति की प्रतिमा की स्थापना उनके बलिदान के प्रति आमजन द्वारा अभिव्यक्त किया गया सम्मान है।

मुख्यमंत्री चौहान आज यहां आर्च ब्रिज के लोकार्पण कार्यक्रम को संबोधित करते हुए यह बाते कहीं। उन्होंने कहा कि देश की स्वतंत्रता के लिए जो शहीद हुए, उनके प्रति कृतज्ञता व्यक्त करना आवश्यक है। मध्यप्रदेश के गोंड राजाओं और रानियों का स्वतंत्रता संग्राम में महत्वपूर्ण योगदान रहा है। रघुनाथ शाह, शंकर शाह, रानी दुर्गावती आदि का बलिदान इतिहास में दर्ज है। रानी कमलापति ने अपने 14 वर्षीय पुत्र नवल शाह को युद्ध भूमि में संग्राम के लिए भेजा जो शहीद हुए थे। इसके पश्चात स्वयं सम्मान और स्वाभिमान के खातिर रानी ने जौहर किया। भोपाल की झील में उन्होंने जल समाधि ली। भारतीय संस्कृति में ऐसे बलिदान याद रखे जाते हैं।

मुख्यमंत्री ने कहा कि भोपाल में प्रतिवर्ष रानी कमलापति की स्मृति में कार्यक्रम होगा जिसमें प्रदेश के गोंडवाना अंचल के प्रतिनिधि भी शामिल होंगे। भोपाल के संस्थापक राजा भोज की झील के पास प्रतिमा स्थापित की गई थी। इसी श्रंखला में रानी कमलापति की प्रतिमा की स्थापना नागरिकों के लिए गर्व का विषय है।

उन्होंने कहा कि भोपाल की सुंदरता और स्वच्छता में वृद्धि के लिए निरंतर प्रयास होंगे। अगले 5 वर्ष की विकास और सौन्दर्यीकरण की योजना भी तैयार की गई है। इसे जल्दी ही आम जनता के समक्ष लाया जाएगा। भोपाल के जलाशयों को बचाया जाएगा। उन्हें हम मल का भंडार नहीं बनने देंगे। भोपाल में इसी उद्देश्य से सीवेज ट्रीटमेंट प्लांट स्थापित किए जा रहे हैं। भोपाल को देश का सबसे स्वच्छ एवं सुंदर शहर बनाया जाएगा।

मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि आलोक शर्मा बधाई के पात्र हैं जिन्होंने इसके लिए निरंतर प्रयास किए हैं। भोपाल शहर की अपनी पहचान है। भोपाल के विकास में लगा ग्रहण समाप्त हो गया है। हमारी सरकार भोपाल के विकास को दोगुनी गति से संपन्न करवाएगी। मुख्यमंत्री ने इस अवसर पर राज्य सरकार द्वारा मिलावट के विरुद्ध अभियान, प्रलोभन देकर कर महिलाओं से विवाह करने और प्रताड़ना का शिकार बनाने के लिए कड़ी सजा के प्रावधान और कानून के निर्माण, लोक सेवा प्रबंधन विभाग की सेवाओं को बेहतर बनाने, सुशासन स्थापना के प्रयासों की जानकारी दी।

मुख्यमंत्री चौहान ने नागरिकों से आह्वान किया कि कोरोना से बचाव की सावधानियां अपनाते रहे। शीघ्र ही वैक्सीन लगाने का कार्य प्रारंभ होगा जिसमें निर्धन तबके को यह सुविधा नि:शुल्क उपलब्ध करवाई जाएगी। कार्यक्रम में नगरीय प्रशासन मंत्री भूपेंद्र सिंह, प्रोटेम स्पीकर रामेश्वर शर्मा भी उपस्थित थे। कार्यक्रम में सांसद एवं प्रदेश भाजपा अध्यक्ष विष्णुदत्त शर्मा ने कहा कि आज नए और पुराने भोपाल को जोड़ने के लिए इस ब्रिज का शुभारंभ हुआ है, जो महत्वपूर्ण सौगात है। पूर्व महापौर आलोक शर्मा ने कहा कि रानी कमलापति के बलिदान की गाथा से भोपाल के नागरिक परिचित हैं। हमारा समाज वीरांगनाओं का सम्मान करता है। इसलिए ही रानी कमलापति की प्रतिमा स्थापना की पहल की गयी है।

भोपाल की सांसद साधवी प्रज्ञा ठाकुर ने मुख्यमंत्री श्री चौहान के नेतृत्व में भोपाल और प्रदेश के विकास के लिए किए जा रहे प्रयासों को महत्वपूर्ण बताया। इस अवसर पर विधायक कृष्णा गौर, भगवानदास सबनानी, सुमित पचौरी आदि उपस्थित थे। मुख्यमंत्री ने कुल 115 करोड़ रूपए के कार्यों का शुभारंभ किया। आज जिन निर्माण कार्यों का लोकार्पण किया, वे इस प्रकार हैं, स्मार्ट पार्क, स्मार्ट रोड, जाटखेड़ी ट्रांसफर स्टेशन, सीवेज ट्रीटमेंट प्लांट आर्च ब्रिज शामिल हैं।