breaking news New

ब्रेकिंग न्यूज़ : दिल्‍ली में जोख‍िम भरा हो सकता है सीबीएसई एग्‍जाम कराना : CM केजरीवाल ने परीक्षा रद्द करने केंद्र से की अपील

 ब्रेकिंग न्यूज़ : दिल्‍ली में जोख‍िम भरा हो सकता है सीबीएसई एग्‍जाम कराना : CM केजरीवाल ने  परीक्षा रद्द करने केंद्र से की अपील


नयी दिल्ली।  दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने दिल्ली समेत पूरे देश में बढ़ते कोरोना मामलों के मद्देनजर केंद्र सरकार से केन्द्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) की परीक्षा रद्द करने की अपील की है।

कोरोना की सेकेंड वेव और चार मई से बोर्ड एग्‍जाम..पूरे देश में अभ‍िभावक और पेरेंट्स परीक्षाओं को लेकर विरोध कर रहे हैं. दिल्‍ली के मुख्‍यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने भी सीबीएसई बोर्ड एग्‍जाम कैंस‍िल कराने की मांग की है. राजधानी में सीबीएसई बोर्ड एग्‍जाम कराने से 6 लाख विद्यार्थ‍ियों और एक लाख टीचर्स के लिए जोख‍िम भरा हो सकता है. .

श्री केजरीवाल ने आज यहाँ संवाददाताओं से कहा कि दिल्ली में सीबीएसई की परीक्षा में छह लाख बच्चे बैठेंगे और एक लाख से अधिक शिक्षक शामिल होंगे। उन्होंने कहा कि कोरोना की चौथी लहर में युवा ज्यादा प्रभावित हो रहे हैं। दिल्ली में 65 फीसदी कोरोना मरीज 45 साल से कम उम्र के हैं। अस्पतालों को बैंक्वेट हॉल से अटैच किया जा रहा है। कम गंभीर मरीजों का बैंक्वेट हॉल में और ज्यादा गंभीर मरीजों का अस्पताल में इलाज किया जाएगा। उन्होंने कहा कि कोरोना के चलते अस्पतालों में प्लांड सर्जरी दो-तीन महीने के लिए स्थगित रहेगी। अस्पतालों में भर्ती जिन मरीजों को बेड की जरूरत नहीं है, उनसे बेड खाली करने का अनुरोध किया जाएगा, ताकि गंभीर मरीजों के लिए बेड उपलब्ध रहे। मुख्यमंत्री ने कोरोना से ठीक हो चुके लोगों से प्लाज्मा दान करने के लिए आगे आने की अपील की है।

उन्होंने कहा कि पिछले 24 घंटे में दिल्ली में 13,500 मामले हो चुके हैं। पिछले साल नवंबर में जब कोरोना अपने चरम पर था, उस दौरान अधिकतम 8,500 मामले आए थे। हम सभी जानते हैं कि इस बार की लहर बहुत खतरनाक है। इस वाली लहर में युवा काफी ज्यादा प्रभावित हो रहे हैं। साथ ही बच्चे भी प्रभावित हो रहे हैं। पिछले 10-15 दिनों का आंकड़ा दिखाता है कि कोरोना के अभी तक जो मरीज आए हैं, उसमें से 65 फीसदी मरीज 45 साल से कम उम्र के हैं। मैं सभी युवाओं से अपील करना चाहूंगा कि आप देश के लिए बहुत कीमती हैं। आप लोग अपने परिवार के लिए बहुत कीमती हैं। आपकी जिंदगी, आपका स्वास्थ और आपकी सुरक्षा हम सबके लिए बेहद जरूरी है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि मैं समझ सकता हूं कि युवाओं के ऊपर अपने माता-पिता, अपनी पत्नी और बच्चों की जिम्मेदारी है। युवाओं को अपनी जिम्मेदारियों को पूरा करने और दो वक्त रोटी कमाने के लिए घर से निकलना पड़ता है, लेकिन घर से तभी निकलें, जब बहुत जरूरी हो। साथ ही, जब घर से निकलें, तो कोविड के सभी प्रोटोकॉल का पालन करें। सभी को कोविड के प्रोटोकाल को बहुत ही कड़ाई के साथ पालन करना है। सभी को मास्क पहन कर रखना है। अपनी सुरक्षा अपने हाथ में है। अगर आप 45 साल से ऊपर के उम्र के हैं, तो तुरंत सरकारी अस्पतालों जाकर टीकाकरण करा लीजिए। सभी सरकारी अस्पतालों में वैक्सीन निशुल्क है। हमने कई अस्पतालों को 24 घंटे के लिए खोल रखा है।

श्री केजरीवाल ने कहा कि बच्चों की सुरक्षा हमारे लिए बहुत जरूरी है। अभी सीबीएसई की परीक्षा आने वाली है। इस परीक्षा में दिल्ली के छह लाख बच्चे बैठेंगे और परीक्षा को संपन्न कराने में करीब एक लाख शिक्षक शामिल होंगे। सीबीएसई के परीक्षा केंद्र कोरोना के बहुत बड़े हॉटस्पॉट बन सकते हैं और बहुत बड़े स्तर पर कोरोना फैल सकता है। बच्चों की जिंदगी और उनकी सेहत हमारे लिए बहुत जरूरी है। मेरी हाथ जोड़कर केंद्र सरकार से अपील है कि सीबीएसई की परीक्षा को रद्द किया जाए। इसके एवज में कई और तरीके निकाले जा सकते हैं। ऑनलाइन या इंटरनल एसेसमेंट कर उसके आधार पर इस बार बच्चों को पास किया जा सकता है, लेकिन सीबीएसई की परीक्षा को रद्द करना बहुत जरूरी है। जहां पर भी कोरोना की दूसरी लहर का प्रकोप आया है, कई देशों ने अपने-अपने यहां परीक्षाएं स्थगित कर दिए हैं। हमारे देश के अंदर भी कई राज्य सरकारों ने अपनी परीक्षाएं स्थगित कर दी हैं। मेरी केंद्र सरकार से अपील है कि सीबीएसई की परीक्षा को रद्द किया जाए।