breaking news New

कांग्रेस के नए कार्यकारिणी से कार्यकर्ता असंतुष्ट, पुराने लोगों की उपेक्षा, करेंगे हाईकमान से शिकायत

कांग्रेस के नए कार्यकारिणी से कार्यकर्ता असंतुष्ट, पुराने लोगों की उपेक्षा, करेंगे हाईकमान से शिकायत

 सुरजपुर । सूबे में भले ही कांग्रेस की सरकार हो साथ ही जिले से प्रदेश के कैबिनेट मंत्री कांग्रेस पार्टी से होने के बाद भी कांग्रेसियों में असंतोष के माहौल रुकने का नाम नही ले रहा है। कांग्रेस पदाधिकारियों से लेकर कार्यकर्ता कई गुंटों में देखे जा सकते है। 

साथ ही जिले के कांग्रेस पार्टी के अध्यक्ष द्वारा जिले के कार्यकारणी गठित किए जाने से कांग्रेसियों में पार्टी अध्यक्ष के खिलाफ विद्रोह पैदा होने लगा है। पदाधिकारी व कार्यकर्ता नये कार्यकारणी बनाने जाने पर असंतोष है। 

कांग्रेसियों ने दबी जबान में कह रहे है कि कमेटी में कई ऐसे पदाधिकारियों को जगह दिया गया हैं जो संगठन में काम नहीं किया है या नए लोग हैं। जिससे पुराने लोग उपेक्षित महसूस कर रहे हैं। जिला कांग्रेस कमेटी के विस्तार को लेकर लोगों को लम्बा इंतजार करना पड़ा, इंतजार के बाद जो सूची सामने आई उसे लेकर कांग्रेस के नेता, कार्यकर्ता काफी ख़फा नजर आ रहे हैं। कई पदाधिकारी व कार्यकर्ता जमीनी रूप से जुड़े हुए है। उनका कहना है कि उस वक्त हम पार्टी के साथ थे जिस वक्त कांग्रेस का झंडा उठाने वाला कोई नही था। कल नए लोग पार्टी में आये है। उन्हें जिला कमेटी में स्थान दे दिया गया। नाराजगी इस कदर है कि कई पदाधिकारी जो कि पार्टी के बेहतर पदों में है वे तक सोशल मीडिया पर अपनी नाराजगी जाहिर कर रहे है। असंतुष्ट नेता सूची को लेकर जिले में आगामी 14 फरवरी दिन रविवार को कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष मोहन मरकाम के आगमन पर शिकायत करने के मन बना लिए है। हालांकि कैमरा के सामने आने में सभी परहेज कर रहे है। 


बता दें कि जिला कांग्रेस कमेटी की अध्यक्ष भगवती राजवाड़े ने जो सूची जारी की है उसमें ऐसे लोगों को पदाधिकारी बना दिया गया है जिनका संगठन के लिए योगदान नहीं के बराबर है इससे पुराने नेताओं को उपेक्षित होना पड़ा जो वर्षों से संगठन की मजबूती के लिए अपना तन मन समर्पित किए हुए है। सूची में एक नाम ऐसा भी सामने आया जो दूसरे दल का नेता है उसने खुद सोशल मीडिया पर अपने नाम आने असंतुष्टि जाहिर की है। 

सूत्रों के मुताबिक जिला कांग्रेस कमेटी की सूची को लेकर जो बवाल हो रहा है उसके जिम्मेदार ऐसे पदाधिकारी हैं जो अपनी मनमर्जी चलाए हैं और किसी के संगठन में योगदान को देखे बिना अपने चहेतों को उपकृत कर दिया गया है। कांग्रेसी नेताओ ने यहां तक कह डाला कि जिला कांग्रेस कमेटी में ऐसे पदाधिकारी भी शामिल हैं जिनको स्थानीय ग्रामीण तक नही जानते है कि वे पार्टी के नेता है। और ना ही पार्टी में उनकी कोई भूमिका कार्य रहा हो। 

बरहाल इससे पूर्व भी कांग्रेस के कार्य कर्ताओ ने भी दुःख जाहिर करते हुए कई दफा कह चुके है। कि सरकार हमारी होने के बाद भी अफसर पार्टी का नही सुनते है। आज भी छोटे छोटे कार्यो में बीजेपी के नेता लम्बे समय से कार्य कर रहे है। सत्ता रूढ़ पार्टी में होने के बाद भी कोई लाभ नही मिल रहा है। 

इस सम्बंध में जिला कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष भगवती राजवाड़े से हमारी टीम ने बात की तो उन्होंने कहा कि कुछ नाम मे टाइपिंग त्रुटि हुई है। साथ ही असंतुष्ट कोई कार्यकर्ता नही है।  फिर भी असंतुष्ट लोगो को संतुष्ट करने का कार्य चल रहा है। गुटों के सवालों पर कहा कि ऐसा नही है। सभी को साथ मे लेकर चलने का कार्य कर रहे है।