breaking news New

अहमद पटेल के अंतिम संस्कार में शामिल हुए CM भूपेश बघेल

अहमद पटेल के अंतिम संस्कार में शामिल हुए CM भूपेश बघेल

रायपुर, 27 नवंबर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल गुजरात के भरूच जिले के अंकलेश्वर तालुका स्थित पीरामन गांव पहुंचकर वहां राज्यसभा सांसद  अहमद पटेल के अंतिम संस्कार में शामिल हुए। मुख्यमंत्री ने स्वर्गीय अहमद पटेल के परिजनों से मिलकर अपनी शोक संवेदनाएं प्रकट की।

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता अहमद पटेल का गुरुवार को अंतिम संस्कार किया गया. गुजरात में भरुच ज़िले में उनके पैतृक गांव पिरमान के एक क़ब्रिस्तान में अहमद पटेल को दफ़न किया गया.

इस दौरान कोरोना दिशा-निर्देशों का पालन किया गया. बहुत सारे लोग क़ब्रिस्तान में आना चाहते थे लेकिन कोरोना नियमकों के कारण पुलिस ने उन्हें आने नहीं दिया.

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी, मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री कमल नाथ, छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल, पार्टी के महासचिव और मीडिया प्रभारी रणदीप सिंह सुरजेवाला समेत कांग्रेस के कई बड़े नेता उनकी अंतिम यात्रा में शामिल हुए.

इससे पहले राहुल गांधी अहमद पटेल के परिवार के सदस्यों से भी मिले. अहमद पटेल का बुधवार सुबह दिल्ली से सटे गुड़गाँव में निधन हुआ था. 71 वर्षीय अहमद पटेल क़रीब एक महीने पहले कोरोना वायरस से संक्रमित हुए थे.

उनके बेटे फ़ैसल पटेल ने इसकी जानकारी देते हुए ट्वीट किया था, "अपने सभी शुभचिंतकों से अनुरोध करता हूं कि इस वक़्त कोरोना वायरस के नियमों का कड़ाई से पालन करें और सोशल डिस्टेंसिंग को लेकर दृढ़ रहें और किसी भी सामूहिक आयोजन में जाने से बचें."

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अहमद पटेल के निधन पर शोक जताते हुए लिखा था कि 'अपने तेज़ दिमाग़ के लिए जाने जाने वाले पटेल की कांग्रेस को मज़बूत बनाने में भूमिका को हमेशा याद रखा जाएगा'.

कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने शोक संदेश में लिखा था कि 'अहमद पटेल के रूप में मैंने एक सहयोगी को खो दिया है जिसा सारा जीवन कांग्रेस के लिए समर्पित था...मैंने एक विश्वस्त सहयोगी और एक दोस्त को खो दिया है'.

कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने अहमद पटेल के निधन पर ट्वीट कर लिखा था - "ये एक दुखद दिन है. अहमद पटेल पार्टी के एक स्तंभ थे. वे हमेशा कांग्रेस के लिए जिए और सबसे कठिन समय में पार्टी के साथ खड़े रहे. हम उनकी कमी महसूस करेंगे. फ़ैसल, मुमताज़ और उनके परिवार को मेरा प्यार और संवेदना."