मेकाहारा से स्वस्थ होकर लौटे संक्रमित नितिन तिवारी ने बताई आप बीती : कोरोना वारियर्स नही देवदूत है वो लोग

 मेकाहारा से स्वस्थ होकर लौटे संक्रमित नितिन तिवारी ने बताई आप बीती : कोरोना वारियर्स नही देवदूत है वो लोग

 रायपुर। ’मेकाहारा के डाॅक्टर ,स्टाॅफ सबको  मेरा हजार सैल्यूट। मै और मेरे परिवार वाले हमेशा उनके ऋणी रहेंगे।’ ये देवदूत हैं हमारे लिए। ये कहना है  नितिन तिवारी  रायपुर निवासी का जो कोरोना पाजिटिव थे और  अभी 22 सितंबर को पूरी तरह स्वस्थ होकर घर लौटे हैं। 6 सितंबर से उनको  और उनकी पत्नी श्रीमती संगीाता केा बुखार आ रहा था लेकिन मौसमी बुखार समझकर उसी की दवाई ली ,पर जब उससे नही ठीक हुए तो परिवार वालों की सलाह पर कालीबाड़ी स्थित कोरोना जांच केन्द्र में जाकर सैंपल दिया। उसके पूर्व ही चिकित्सक की सलाह पर दवाईयां लेने लगे थे लेकिन जब ज्यादा तबीयत बिगड़ने लगी तब उन्हे मेकाहारा के आई सी यू में भर्ती किया गया। उनकी कल्पना में जैसे सरकारी अस्पताल थे ,उन्हे बिल्कुल उलट माहौल मिला। वे वहां की व्यवस्था ,चिकित्सकों डाॅ सुंदरानी,डाॅ पांडा  और दूसरों की तारीफ करते नही थकते। उन्हे लगा कि यहां के स्टाफ को कोरोना से डर नही लगता। योद्धा की तरह लगे रहते हैं।  तिवारी वहां के भोजन और सफाई की तारीफ करना भी नही भूलते । उनका कहना है कि उन्हे नवजीवन मिला और उसे वे कभी नही भूलेंगे। वहां उन्हे मानसिक संबल भी मिला ।