breaking news New

कोल कर्मियों से भरी अनियंत्रित बस नाले में गिरी, 32 कर्मचारियों के घायल होने की खबर

कोल कर्मियों से भरी अनियंत्रित बस नाले में गिरी, 32 कर्मचारियों के घायल होने की खबर


प्रतापपुर/भटगांव। एसईसीएल भटगांव क्षेत्र के खुली खदान महान टू व थ्री में कार्यरत कर्मचारियों को जरही से माइंस ले जाती बस अनियंत्रित होकर सुखदेवपुर के समीप बाकी नदी में जा गिरी। जिसमें 32 कर्मचारियों के घायल होने की खबर है, सभी घायलों को बस से निकाल प्राथमिक उपचार हेतु भटगांव हॉस्पिटल लाया गया है। वही कईयों की स्थिति नाजुक होने की स्थिति में डॉक्टरों के द्वारा अंबिकापुर जीवन ज्योति हॉस्पिटल रेफर कर दिया गया है। 


मिली जानकारी के अनुसार एसईसीएल भटगांव क्षेत्र के खुली खदान महान टू व थ्री में कार्यरत कर्मचारियों को आवासीय कॉलोनी से माइंस तक आवागमन करने हेतु प्रबंधन की ओर से बस की सुविधा मुहैया कराई गई है। प्रतिदिन की भांति आज भी सभी कर्मचारी अपने अपने स्थानों से बस में सवार होकर निर्धारित समय अवधि में अपने अपने कार्य स्थलों पर जा रहे थे। कि इसी बीच सुखदेवपुर के समीप बाकी नदी पर स्थित पुल के ऊपर बड़ा गड्ढा होने के कारण ड्राइवर के द्वारा तेज रफ्तार में कटिंग करने के दौरान बस अनियंत्रित होकर पुलिया के नीचे गिरने की खबर हैं। जिससे बस में सवार कर्मचारियों में अफरा तफरी का माहौल निर्मित हो गया। इसी बीच मामले की जानकारी केरता पुलिस समेत एसईसीएल प्रबंधन को मिली। जानकारी मिलते ही केरता पुलिस एवं एसईसीएल प्रबंधन की आला अधिकारियों की टीम एंबुलेंस के साथ घटनास्थल पर पहुंच रेस्क्यू ऑपरेशन कर सभी कर्मचारियों को सुरक्षित बाहर निकाले। सभी घायलों को तत्काल प्राथमिक उपचार हेतु भड़गांव हॉस्पिटल लाया गया। जहां कई कर्मचारियों की स्थिति नाजुक होने के उपरांत डॉक्टरों की टीम के द्वारा उनके बेहतर इलाज हेतु जीवन ज्योति हॉस्पिटल अंबिकापुर भेजा गया है। जहां उनका उपचार जारी है, बताया जा रहा है कि उक्त बस में 32 कर्मचारी सवार थे। जिसमें कई कर्मचारियों की स्थिति सामान्य बताई जा रही है। चौकी प्रभारी विमलेश सिंह ने बताया कि घटना तकरीबन 9:30 बजे के आसपास की बताई जा रही है। पुलिया के ऊपर एक बड़ा गड्ढा होने के कारण यह अंदेशा लगाया जा रहा है कि ड्राइवर की गाड़ी की रफ्तार कुछ तेज थी कटिंग करने के दरमियान यह हादसा हुआ होगा। मामले की जांच के उपरांत ही स्थिति स्पष्ट हो सकेगी।