breaking news New

ब्राह्मणों के वैदिक मंत्रोचार के साथ भगवान शालीग्राम के साथ तुलसी जी का श्रीशुभ विवाह हुआ सम्पन्न

 ब्राह्मणों के वैदिक मंत्रोचार के साथ भगवान शालीग्राम के साथ तुलसी जी का श्रीशुभ विवाह हुआ सम्पन्न


जगदलपुर। श्रीश्री जगन्नाथ मंदिर में 360 घर आरण्यक ब्राह्मण समाज के द्वारा श्रीशुभ तुलसी विवाह का आयोजन किया गया। श्रीश्री जगन्नाथ मंदिर में आज सुबह से ही 360 घर आरण्यक ब्राह्मण समाज के ब्राह्मणों के द्वारा वैदिक मंत्रोचार के साथ विधि-विधान के साथ भगवान शालीग्राम के साथ श्रीशुभ तुलसी विवाह जारी रहा। वर पक्ष भगवान शालीग्राम की ओर से सत्यनारायण पाढ़ी गुनपुर एवं वधु पक्ष श्रीशुभ तुलसी की ओर से टनटन गोपाल जैबेल के द्वारा विवाह के रस्मों का निर्वहन किया !


360 घर आरण्यक ब्राह्मण समाज के अध्यक्ष ईश्वर खंबारी ने बताया कि परंपरानुसार प्रतिवर्ष की भांति इस वर्ष भी समाज के सदस्यों की उपस्थिति में दिन में विवाह के रस्मों का निर्वहन किया जाता रहा देर शाम शुभ मुहर्त में श्रीश्री जगन्नाथ मंदिर से वर पक्ष भगवान शालीग्राम ओर से सत्यनारायण पाढ़ी के नेतृत्व में भगवान शालीग्राम की बरात जगन्नाथ मंदिर से निकाल कर रथ परिक्रमा स्थल गोलबाजार चौक, दंतेश्वरी मंदिर चौक से होकर वापस जगन्नाथ मंदिर पहुंची जहां वधु पक्ष टनटन गोपाल जेबेल क्षेत्र एवं समाज के सदस्यों द्वारा भगवान सालीग्राम का स्वागत कर भगवान शालीग्राम एवं माता तुलसी का श्रीशुभ विवाह विधि-विधान पूर्वक संपन्न किया गया।


इस दौरान समाज के अध्यक्ष ईश्वर खम्बारी के नेतृत्व में उपाध्यक्ष रामानुजन आचार्य, सचिव आत्माराम जोशी, सह सचिव दिलेश्वर पांडे, रविन्द्र पांडे, हेमंत पांडे, जगदलपुर क्षेत्रीय अध्यक्ष विवेक पांडे, राकेश पांडे, सुदर्शन पाणिग्राही, बनमाली पाणिग्राही, नरेन्द्र पाणिग्राही, गजेन्द्र पाणिग्राही, मिनकेतन पाणिग्राही, कौशल पांडे, अजय जोशी, वेणुधर पाणिग्राही, वैभव पांडे, चुम्मन पांडे, बलजीत पाणिग्राही, भूपेश पाणिग्राही,  जननी पांडे,  कुलवती पांडे त्रिवेणी प्रसाद पांडे के आलवा समाज के 100 ग्रामों के सदस्य शामिल हुए।