breaking news New

नगर में बेख़ौफ़ धड़ल्ले से चल रही सटोरियों की दुकान, लाखों रुपये का सट्टा पट्टी लिखकर हो रहें मालामाल

नगर में बेख़ौफ़ धड़ल्ले से चल रही सटोरियों की दुकान, लाखों रुपये का सट्टा पट्टी लिखकर हो रहें मालामाल


मुख्यमंत्री व नए पुलिस महानिदेशक के आदेश का किया जा रहा है नजरअंदाज

डौंडी: नगर में इन दिनों सटोरियों की मौज है। बेख़ौफ़जदा सटोरिये एक दिन में लाखों रुपये का सट्टा पट्टी लिखकर मालामाल हो रहें हैं और सट्टा खेलने वाले रोज अपनी किस्मत आजमा रहें हैं जहाँ उन्हें अधिकतर निराशा ही हाँथ लग रही है।

दल्ली राजहरा में रहकर खाईवाल आस-पास के क्षेत्रों में इस अवैध धंधे को बेख़ौफ़ होकर चला रहे हैं और पुलिस प्रशासन को इस खुलेआम छाल रहे सट्टा कारोबार की भनक तक नहीं है। पुलिस और खाईवालों की मिलीभगत से यह अवैध कारोबार नगर सहित आस पास के अंचल में पुरी तरह से चरम पर है।

खाईवालों ने भी गांव व नगर में अपना-अपना जोन बंटा हुआ है। एक दूसरे के जोन में कोई दखल नहीं देता है। लोग बेख़ौफ़ होकर अपने काले धंधे का संचालन कर रहे हैं।

शहर के कई क्षेत्रों में सट्टे का कारोबार धड़ल्ले से चल रहा है। पूरे शहर को सट्टे ने अपनी चपेट में ले लिया है। इसका अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि लोग अब खुलेआम सट्टा खेल रहे हैं और उनमें पुलिस का भी कोई डर नहीं नजर आता। वहीं पुलिस भी इस पूरे मामले पर अपनी आंखें मूंदे हुए हैं।

शहर की तंग गलियों में काफी लोग सट्टा और अवैध शराब बिक्री के धंधे में लगे हुए हैं। ऐसा ही एक मामला एक मामला प्रकाश में आया है। सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार दल्ली राजहरा वार्ड क्रमांक 25 निवासी अवधेश गुप्ता सब्जी मार्किट में दोना पत्तल दुकान का संचालक है जो डौंडी में अपने सट्टे का व्यापर चला रहा है।  जानकारी मिली है कि अवधेश गुप्ता का सट्टा का कारोबार पुरे डौंडी क्षेत्र में फैला है और कई ठिकानों में यह इसी प्रकार बेख़ौफ़ होकर और पुलिस की नाक के नीचे अपना सट्टा का कारोबार चला रहा है और सप्ताह में लगभग 10 से 20 लाख रुपये का सट्टा पट्टी लिखता है।

इतनी बड़ी रकम यदि सप्ताह में सट्टा के रूप में लिखी जा रही है और वो भी बेख़ौफ़ तो कहीं न कहीं इसमें पुलिस प्रशासन की मिलीभगत की भी संभावना साफ़ तौर पर लग रही है। उसे जरा भी शासन  व प्रशासन का डर नहीं है।

पुलिस से सांठगांठ के चलते ये अवैध कारोबार को बाकायदा लाइसेंसी कारोबार के रूप में खुले आम शहर में संचालित हो रहा है। इस पूरे मामले में डौन्दी थाना प्रभारी अनिल ठाकुर से जब हमने संपर्क कर अवधेश गुप्ता द्वारा सट्टा कारोबार चलाने के बारे में पूछा तो उन्होंने इस बारे में कोई भी जानकारी नहीं होनी की बात कहकर अपना पल्ला झाड़ लिया।

वर्सन : अनिल ठाकुर (थाना प्रभारी, डौंडी)

अवधेश गुप्ता द्वारा डौंडी में सट्टा चलाने व खाईवाली करने के बारे में मुझे कोई जानकारी नहीं है। यदि अवधेश गुप्ता  सट्टा पट्टी लिखते हुए पकड़ा जाता है तो उसे जुआ एक्ट के तहत प्रकरण दर्ज कर सजा दिलाने के लिए मैं पूरी कार्रवाई करूँगा।

 नए महा पुलिस निदेशक ने किया हर जिले को फरमान जारी कहा सट्टा  जुआ वह गांजे का अवैध कारोबार में लगाई जाए लगाम नहीं तो जिले के पुलिस अधीक्षक पर होगी कार्यवाही