breaking news New

CTET-TET से 7 साल की बाध्यता खत्म

CTET-TET से 7 साल की बाध्यता खत्म


शिक्षक बनने का सपना देख रहे युवाओं के लिए खुशखबरी है। नेशनल काउंसिल फॉर टीचर एजुकेशन (NCTE) ने केंद्रीय शिक्षक पात्रता परीक्षा (CTET) और अन्य शिक्षक पात्रता परीक्षाओं (TET) के संबंध में अहम फैसला लिया है। एनसीटीई का यह फैसला लाखों अभ्यर्थियों को बड़ी राहत देने वाला है।

एनसीटीई ने अब सेंट्रल टीचर्स एलिजिबिलिटी टेस्ट (सीटीईटी) या देश के किसी भी अन्य स्टेट लेवल टीईटी से 7 साल की बाध्यता खत्म कर दी है। हाल में हुई एनसीटीई की 50वीं जेनरल बॉडी मीटिंग में यह फैसला लिया गया है।

क्या है इस फैसले का मतलब

पहले किसी भी टीईटी सर्टिफिकेट की वैधता 7 साल की होती थी। यानी जब अभ्यर्थी ने वह परीक्षा पास की, तब से लेकर 7 साल तक ही वह किसी सरकारी स्कूल में शिक्षक की नौकरी के लिए योग्य होते थे। लेकिन अब एनसीटीई ने फैसला लिया है कि सभी शिक्षक पात्रता परीक्षाओं के प्रमाण पत्र उम्र भर के लिए वैध होंगे। यानी अब जो अभ्यर्थी किसी टीईटी में सफल होंगे, वह हमेशा सरकारी शिक्षक बनने के योग्य रहेंगे।

जिन्होंने पहले टीईटी पास किया, उनका क्या

बैठक में कहा गया है कि जो उम्मीदवार अब से पहले टीईटी पास कर चुके हैं, जिनके पास टीईटी क्वालिफाइड सर्टिफिकेट है, उन पर यह प्रावधान लागू होगा या नहीं, इस संबंध में कानूनी राय लेने के बाद फैसला लिया जाएगा।

एनसीटीई ने अभी इस संबंध में कोई औपचारिक नोटिस या सर्कुलर जारी नहीं किया है। विभिन्न स्टेट लेवल टीईटी के लिए भी संबंधित राज्यों द्वारा नोटिफिकेशन जारी किया जाएगा। वहीं, सीबीएसई (CBSE) भी आधिकारिक वेबसाइट पर जल्द इस संबंध में घोषणा करेगी। आधिकारिक नोटिफिकेशन / सर्कुलर जारी होने के बाद ही एनसीटीई द्वारा किया गया यह बदलाव प्रभावी होगा।