breaking news New

ग्रामीण आदिवासी क्षेत्रों में ‘शिक्षा का प्रसार’ व “प्राथमिक शिक्षा को सुदृढ़ बना रहे -रूपेश कुमार

ग्रामीण आदिवासी क्षेत्रों में ‘शिक्षा का प्रसार’ व “प्राथमिक शिक्षा को सुदृढ़ बना रहे -रूपेश कुमार


दंतेवाड़ा 4नवम्बर ।  जावांगा एजुकेशन सिटी गीदम  का एक युवक रूपेश कुमार सिन्हा के द्वारा ग्राम -पंचायत रोन्जे गीदम मोहल्ला स्कूल में जाकर कोरोना वायरस से बचाव के नियम व सामाजिक दूरी का पालन करते हुए बच्चों को नि:शुल्क शैक्षणिक सामग्री पेन, पेंसिल ,रबर ,कटर ,कॉपी, पहाड़ा,मास्क व चार्ट दिया गया। रुपेश ने बच्चों के बीच जाकर उन्हें उनके जीवन में ‘शिक्षा के महत्व ‘को लेकर कुछ विशेष बातें कही ,जिसे सभी बच्चों ने बहुत ध्यान से सुना और अपने जीवन मे अमल करने हेतु संकल्प भी लिया।


रुपेश सिन्हा ने बच्चों में शिक्षा से जुड़ाव व स्कूल के प्रति लगाव को प्रमुख बताया वे पिछले कुछ वर्षों से लगातार बच्चों से जुड़े हैं,वह खुद तकनीकी शिक्षा से जुड़े हैं साथ हि उन्हें शिक्षा के क्षेत्र में 10 वर्षों से अधिक का अनुभव है। इनका प्रमुख उद्देश्य “ग्रामीण आदिवासी” क्षेत्रों में ‘शिक्षा का प्रचार -प्रसार’ व “प्राथमिक शिक्षा को सुदृढ़ बनाना है । ” दंतेवाड़ा जिले के विभिन्न स्कूलों में जाकर रूपेश ने अब तक 450 से अधिक बच्चों को शैक्षणिक सामग्री का नि:शुल्क वितरण किया है। आगे भी इनका यह प्रयास जारी रहेगा ।