breaking news New

नगर पालिका अध्यक्ष एवं उनके पति पर वेब पोर्टल समाचार के माध्यम से लगा शासकीय जमीन पर कब्जा करने का मिथ्य आरोप, एक करोड़ मानहानि का दावा

नगर पालिका अध्यक्ष एवं उनके पति पर वेब पोर्टल समाचार के माध्यम से लगा शासकीय जमीन पर कब्जा करने का मिथ्य आरोप, एक करोड़ मानहानि का दावा

सक्ती, 26 नवंबर। इन दिनों नगर के संभ्रान्त व्यक्तियों पर बिना तथ्य की जानकारी तथा दस्तावेज के सुनी सुनाई बातों पर पत्रकारो एवं वेब पोर्टल समाचार चलाने वाले काफी सक्रिय है और ये लोग निराधार बेबुनियाद द्वेष भावना से संभ्रान्त व्यक्तियों को उक्त समाचार के माध्यम से प्रताड़ित एवं लज्जित करते रहते है। इसी श्रृंखला में रोहित राठौर पिता कन्हैया लाल राठौर द्वारा नगर पालिका अध्यक्ष सुषमा जायसवाल एवं उनके पति त्रिलोकचंद जायसवाल सहित आड़े हाथ लेते हुये क्षेत्रीय विधायक एवं अनुविभागीय अधिकारी की भी संलिप्तता बताते हुये गणेश बंध तालाब का सात एकड़ सरकारी जमीन पर कब्जा किये जाने का आरोप लगाया है और यह भी लिखा गया है कि अपनी काली करतूतो पर परदा डालने, शासकीय जमीन पर कब्जा बढाने के उद्देश्य से जायसवाल परिवार की क्षेत्रीय विधायक से नजदीकियाँ बढती गई।

एक करोड़ मानहानि का दावा

 प्रसारित किया गया है कि आगे वेब पोर्टल पर लिखा गया है कि त्रिलोकचंद जायसवाल द्वारा अपनी गलतियों पर परदा डालने और राजनैतिक संरक्षण प्राप्त करने के उद्देश्य से अपनी पत्नि को कांग्रेसी उम्मिदवार के रूप में नगर पालिका अध्यक्ष की कुर्सी के लिये मैदान मे उतारा और पैसों के दम पर अपनी काली करतूतो को छुपाने के लिये कुर्सी हासिल कर ली। तथा शासकीय जमीन पर कब्जा करने से जायसवाल परिवार को जेल तक जाना पड़ सकता है ऐसा प्रसार किया गया है। इन सब बिना साक्ष्य एवं तथ्य के समाचार प्रकाशन पर स्वयं त्रिलोकचंद जायसवाल नगर कांग्रेस अध्यक्ष के द्वारा समाचार के हिसाब से जांच कराने की बात कही गई है और इनके द्वारा गलत एवं अपमानित करने समाचार प्रकाशन करने वालों को अपने अधिवक्ता संतोष जायसवाल के द्वारा एक करोड़ रूपये का मानहानि का नोटिस जारी किया गया है। नोटिस में अधिवक्ता के द्वारा बताया गया कि आसामी का व्यवसाय फर्म वंदना इंजिनियरिंग के नाम से चलता है और पिछले चालीस वर्षों से उनका औद्योगिक जगत में काफी ख्याति प्रदेश में है और मेरे आसामी की छवि को धुमिल करने के लिये ऐसा झूठा प्रकाशन किया गया है।


इस संबंध में त्रिलोकचंद जायसवाल नगर कांगे्रस कमेटी अध्यक्ष के द्वारा बताया गया कि उक्त समाचार पूरी तरह निराधार एवं बेबुनियाद है। उनके द्वारा गणेश बंध की कोई सरकारी जमीन पर कब्जा नहीं किया गया है, उनकी निजी जमीन पर कब्जा है। हम पति पत्नि को अपमानित एवं जलिल करने के उद्देश्य से यह एक साजिश है। आगे जायसवाल परिवार के अधिवक्ता संतोष जायसवाल ने बताया कि उन समाचारों के विरोध में उन्होंने संबंधित व्यक्ति के विरूद्ध सक्ती थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई है और साथ ही रोहित राठौर द्वारा आधार हीन, मिथ्या, विद्वेषपूर्ण समाचार प्रचार प्रसारित करने के कारण उनके विरूद्ध एक करोड़ रूपये की मानहानि स्वरूप नोटिस प्रेषित की गई है और भविष्य में रोहित राठौर के विरूद्ध दीवानी एवं फौजदारी प्रकरण भी दायर किये जाने की बात बताई गई।