जीवनी चिन्हारी गीत

जीवनी चिन्हारी गीत

श्याम कुमार चंद्रा  


 सक्ती माननीय श्री भूपेश बघेल जी, विनती हावय बारंबार ।

बड़े विश्वास जगाए हावव, बनके सूबे के सरदार।।


छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री जी, सामान्य प्रशासन वित्तविभाग उर्जा खनिकर्म जन संपर्क इलेक्ट्रॉनिक एवं सूचना प्रौद्योगिकी विभाग ।।


तुंहर चिन्हारी के गुण गावौं, मन में श्रद्धा हावय अपार। गलती हो ही तो माफी दी हा, हिरदय ले मानौं आभार ।।


आपकेनांव श्री भूपेशबघेलजी पिता जी श्री नंद कुमार ।

मैय्या विंधेश्वरी बघेल जी, मनवा कुर्मी कुल परिवार ।।


23 अगस्त 1961 ,

ठेठकिसानघर होईसअवतार।

जनमभूईयां बेलौदीकुरूदडीह तहसील पाटन दुर्ग दुलार।।


मर्रापाटन मं12वीं पड़ेव अउ, कॉलेज पड़े के जागीस आस। पंडित रविशंकर शुक्ल विश्वविद्यालय , 

प्रथमवर्ष स्नातकोत्तर खास।।


श्रीमतीमुक्तेश्वरीसंगबिहाहोय,

बैजनाथपारा रायपुर ससुरार। दाई ददा के अब्बड़ दुलरवा, बढ़िया गुरतुरिया गोटकार।।


गुरु जी श्री वासुदेव चंद्राकर, जेहर आप के सिरजनहार। राजनीति के बड़े पुजारी, जेकर किरपा ले होशियार।।


पाटन क्षेत्र ले सन 93 मं,

बनेव विधायक पहली बार ।

वर्ष 1998 मं,

बनेवविधायक दूसरईयां बार।

तीन ले 18 , 15 बरस तक, बईठ विपक्ष मं करेव विचार। खेती किसानी पानी व्यवस्था, देवभोग और भैंसा कन्हार।।

2013 अउ 18  ,

बनेव विधायक  दून्नों बार ।

नरवा गरवा घुरवा बारी , सबके अब कोई उद्धार ।।

साधु-संत के रहे संगति , सत्संग के हावे संस्कार ।

भाग जगाए छत्तीसगढ़ के , जनसेवा मं जय जय कार ।।

श्याम संगीत सृजन संस्थान, सक्ती ले कईथौं श्याम कुमार। कलासंस्कृति के करौ संरक्षण  परंपरा  के  होय परसार ।।