breaking news New

उद्योगपति ने अपनी पत्नी, बेटी और बेटे की हत्या करने के बाद खुद भी मौत को गले लगा लिया, 9 करोड़ से ज्यादा के ऋण का बोझ था!

उद्योगपति ने अपनी पत्नी, बेटी और बेटे की हत्या करने के बाद खुद भी मौत को गले लगा लिया, 9 करोड़ से ज्यादा के ऋण का बोझ था!

चंडीगढ़.  यहां के एक नामी गिरामी व्यवसायी सुरिंदर उर्फ ​​संजय अरोड़ा ने कथित तौर पर आत्महत्या कर ली है. अंदेशा है कि इसके पहले रात को मनीमाजरा स्थित मॉडर्न हाउसिंग कॉम्प्लेक्स (एमएचसी) में उन्होंने अपनी पत्नी और दो बच्चों की हत्या कर दी और उसके बाद रेलवे ट्रैक पर आत्महत्या कर ली. सुरिंदर उर्फ ​​संजय अरोड़ा सेक्टर 9 पंचकूला में श्री कृष्ण डायरी एंड स्वीट्स के मालिक हैं।

अपने मृत्यु पूर्व लिखे सुसाइड नोट में संजय ने अपने कर्ज और लोगों के नाम का जिक्र किया, जिन्होंने उसके पैसे नहीं लौटाए। उसने नोट में उल्लेख किया है कि उसका शव कलाग्राम के पास रेलवे ट्रैक पर मिलेगा। संजय के रिश्तेदारों ने कहा कि वह लगभग 9-10 करोड़ रुपये के कर्ज में था।

पुलिस को संदेह है कि आत्महत्या करने से पहले संजय अरोड़ा ने अपने परिवार के सदस्यों की हत्या कर दी। पीड़ितों की पहचान संजय की पत्नी सरिता अरोरा (45) के रूप में की गई, जो एक गृहिणी हैं; रत्ना अरोरा, उर्फ ​​सांची (22), उनकी बेटी जो मोहाली में कानून की छात्रा हैं; और बेटा, अर्जुन अरोड़ा (15), एक निजी स्कूल पंचकुला में कक्षा 10 का छात्र है। पुलिस ने पीएस मनीमाजरा में अज्ञात व्यक्तियों के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज किया है.

पुलिस को संजय की कार में इंडियन एक्सप्रेस बैंक के दस्तावेज तथा इसके अंदर एक बॉक्स में रखा एक आरी कटर भी मिला है. तीनों पीड़ितों की गला रेत कर हत्या की गई है. पुलिस ने घर से चाकू बरामद किया है. सरिता का शव एक बेडरूम में पाया गया, वहीं अर्जुन का शव दूसरे कमरे में और रत्ना का शव आम इलाके में पाया गया। रत्ना के सिर पर चोट के निशान पाए गए।

एक पुलिस अधिकारी ने कहा, “हमें शक है कि संजय ने उनकी हत्या कर दी। वह अवसाद में था। एक रेलवे गार्ड ने देखा कि एक आदमी इंजन से टकरा गया था। ट्रेन रुक गई। उन्हें पंचकूला के सिविल अस्पताल 6 ले जाया गया, जहां से डॉक्टरों ने उन्हें पीजीआई रेफर कर दिया. उसके बाद उनकी मौत हो गई. थे.

नीचे बाटम में लें