breaking news New

अंतराष्ट्रीय क्रेता विक्रेता सम्मेलन 20 से 22 सितंबर तक

अंतराष्ट्रीय क्रेता विक्रेता सम्मेलन 20 से 22 सितंबर तक

रायपुर, 9 सितंबर। छत्तीसगढ़ प्रदेश एक कृषि प्रधान प्रदेश है, प्रदेश प्राकृतिक संसाधनों जैसे वन, खनिज, जलसंसाधन, कृषि संपदा आदि से परिपूर्ण है। राज्य के विभिन्न कृषि उत्पादों में भी अपनी विशिष्ट पहचान बनाई है जिसमें प्रमुख रुप से ध्यान हुआ चावल काला चावल विष्णु भोग चावल अन्य सुगंधित धान के पारंपरिक किस्मे आदि का उत्पादन किया जा रहा है।

राज्य में उपलब्ध विशेष गुणों से भरपूर फसल अनाज दलहन तिलहन वनोपज साग सब्जी और हैंडलूम कोसा सिल्क इत्यादि उत्पाद राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय स्तर पर व्यापार को प्रोत्साहित करने के उद्देश्य से 20 सितंबर 2019 के मध्य रायपुर में अंतरराष्ट्रीय कार्यकर्ताओं का सम्मेलन का आयोजन छत्तीसगढ़ राज्य कृषि उपज मंडी द्वारा किया जा रहा है।

कार्यक्रम के बारे में जानकारी देते हुए कृषि मंत्री रविंद्र चौबे ने बताया कि इस सम्मेलन में छत्तीसगढ़ के कृषि उपज वनुपज, हैण्डलूम, कोसा, इत्यादि उत्पादन को प्रोत्साहन देने 16 देश के अंतरराष्ट्रीय स्तर के लगभग 60 क्रेता एवम देश के अन्य प्रदेशों से लगभग 60 क्रेताओं के लगभग 120 विक्रेता भाग लेने की संभावना है।

मंत्री ने बताया कि इस सम्मेलन में स्थानीय कृषकों को राष्ट्रीय एवं अंतर्राष्ट्रीय खेतों से सीधे बातचीत व व्यापार करने का अवसर प्राप्त होगा जिसके फलस्वरूप उन्हें बेहतर मूल्य प्राप्त होगा और बिचौलियों से मुक्ति मिलेगी।