breaking news New

गरीबों के पीडीएस चावल का गोलमाल

गरीबों के पीडीएस चावल का गोलमाल


दंतेवाड़ा। मुखबीर की सूचना पर शुक्रवार की शाम जिला प्रशासन का अमला ने गीदम के उमेश और रामेश्वर गुप्ता नामक दो व्यापारियों के गोदाम में पीडीएस का चावल और बिना लाइसेंस के खरीदा गया धान रखा है।
सूचन पर कलेकटर टोपेश्वर वर्मा ने एसडीएम लिंगराज सिदार के नेतृत्व में टीम दबिश देने के लिए भेजा। बताया जा रहा है गीदम के उमेश गुप्ता नामक व्यापारी के गोदाम में अधिकारियों ने 17 पैकेट पीडीएस के अवैध चावल बरामद किया। इसके बाद रामेश्वर गुप्ता के गोदाम पर पहुंचे। जहां मालिक के नहीं रहने पर गोदाम को टीम द्वारा झांक कर देखा गया जहां पुरा  गोदाम भरा पाया गया तो उसे सील कर दिया गया। शनिवार की सुबह गोदाम निरीक्षण के लिए पहुंच सील खोला गया। तब गोदाम में संदिग्ध बोरे नहीं मिले। इसके बावजूद अधिकारी पंचनामे के आधार पर रिपोर्ट ऊपर भेजने की बात कह रहे हैं। गोदामों में दबिश और निरीक्षण के दौरान एसडीएम के साथ डिप्टी कलेक्टर व प्रभारी तहसीलदार प्रीति दुर्गम खाद्य निरीक्षक प्रहलाद राठौर और गीदम थाना स्टाफ मौजूद था। आश्चर्य की बात यह है कि रात भर में गोदाम से चावल कहां चले गए जमीन खा गई या आसमां निकल गया यह बात अधिकारियों के समझने पर है।  सूत्रों का कहना है कि शुक्रवार की शाम को जब निरीक्षण किया गया तब गोदाम में चावल भरा पड़ा था रातों-रात वहां लगी खिड़कियों से चावल को पार कर दिया गया निरीक्षक अधिकारी भी दबी जुबान में इस बात को कबूल रहे हैं।
गोदाम में दरवाजे के अलावा दो जालीदार खिड़कियां हैं। इसमें से एक का जाली दोबारा जीआई तार से बांधा गया है। यहां यह भी स्पष्ट नजर आया कि जिस खिड़की से माल पार होने आशंका है वह साफ -सुथरा है। जबकि उसी कमरे के सामने वाली खिड़की पर धूल और मकड़ी के जाले हैं। इधर व्यापारी का कहना है कि हमने कोई हेरा फेरी नहीं की है हमें फंसाने की कोशिश की जा रही है। भाजपा नेता जिला उपाध्यक्ष मनीष सुराना का कहना है कि कांग्रेस सरकार द्वारा सत्ता का दुरुपयोग किया जा रहा है शासन-प्रशासन कांग्रेस के दबाव में भाजपा समर्थकों को बेवजह परेशान कर रही है जबकि ऐसा कुछ नहीं हुआ है।
इस मामले में एसडीएम लिंगराज सिरदार का कहना है कि सूचना पर प्रशासनिक अधिकारी गीदम के उमेश गुप्ता और रामेश्वर गुप्ता गोदाम पर दबिश दी। शुक्रवार की देर शाम उमेश के यहां 17 पैकट पीडीएस का चावल बरामद हुआ है। जबकि रामेश्वर गुप्ता के घर पर नहीं रहने से गोदाम को सील कर दिया गया था। सुबह निरीक्षण के दौरान संदिग्ध बोरे और सामान नहीं पाए गए। जबकि खिड़की की जाली को तोडऩे के बाद जीआई तार से दोबारा जोडऩा पाया गया है। इस बात की जांच कराई जाएगी।