breaking news New

रईस बाप की बिगड़ी औलाद की जान लेवा ड्राइविंग, इकलौता चिराग कोमा में

रईस बाप की बिगड़ी औलाद की जान लेवा ड्राइविंग, इकलौता चिराग कोमा में
भाटापारा/ रायपुर, 7 सितंबर। बीते 19 अगस्त की रात 3 बजे रायपुर तेलीबांधा निवासी विक्रम जेसवानी (24)  पिता सच्चानन्द जेसवानी दोस्तों के साथ  गणेश चतुर्थी की प्लानिंग करने जमा हुए थे वह खाना खाकर वीआईपी रोड से लौट रहे थे। कृतार्थ जैन  (16)  पिता नरेश जैन और किशुंक साहू 120 की स्पीड से कार चला रहे थे। कृतार्थ ने विक्रम को गाड़ी से टक्कर मारी जिससे विक्रम उछलकर कार की विल सिल्क पर जा गिरा और डिवाइडर में जा गिरा जिससे विक्रम को गंभीर चोटें आई। जिससे उनकी सीने की हड्डियां भी टूट गई। आरोपी घटनास्थल से फरार हो गए.  विक्रम के दोस्तों ने उन्हें नजदीकी हॉस्पिटल वी केयर में भर्ती करवाया। विक्रम इस वक्त कोमा में है विक्रम की हालत बहुत ही गंभीर है और आज भी वह पहले जैसी में ही है। 

घटना को आज पूरे 18 दिन हो गए लेकिन विक्रम की हालत जस की तस बनी हुई है। विक्रम एक मध्यम परिवार से हैं और अपने मां-बाप का एक अकेला लड़का है। अपने बूढ़े मां बाप का अकेला सहारा है । विक्रम के परिजनों का कहना है कि हमें किसी प्रकार की  मुवायजा राशि नहीं चाहिए अपितु हमें हमारा पुत्र सही सलामत जैसे था वैसे ही मिल जाए। आरोपियों पर कड़ी से कड़ी कारर्वाई होनी चाहिए। 

वहीं आरोप कृतार्थ जैन और उनके दोस्त 15-16 साल के  हैं और 11वीं के छात्र हैं। हादसे की जानकारी तेलीबांधा थाना  में दर्ज है। पीड़ित परिवार जनों ने शासन से आग्रह किया है कि आरोपियों पर कड़ी से कड़ी कारर्वाई होनी चाहिए।