breaking news New

रेत का अवैध उत्खनन करते दस हाइवा वाहनों तथा एक पोकलेन मशीन पर एसडीओपी ने की कार्रवाई

रेत का अवैध उत्खनन करते दस हाइवा वाहनों तथा एक पोकलेन मशीन पर एसडीओपी ने की कार्रवाई

महासमुन्द, 14 सितम्बर। कल भारी तादात में रेत उत्खनन करते वाहनों को पकड़े जाने के बाद आज भी महासमुन्द विधायक के गृहग्राम खट्टी परसदा में रेत का अवैध उत्खनन करते दस हाइवा वाहनों तथा एक पोकलेन मशीन पर एसडीओपी ने कार्रवाई की है। यह कार्रवाई खल्लारी थाने के स्टाफ द्वारा जारी है। समाचार लिखते वक्त पुलिस के जवान और रेत भरे हाइवा खड़ी हैं तथा कार्रवाई जारी है। बता दें कि कल ही रातों रात बडग़ांव धाट से रेत चोरी का मामला हमारे अखबार ने प्रकाशित किया था। राज्य में भी रेत उत्खनन पर पूरी तरह पाबंदी है। जिले के अलावा राज्य के तमाम राजनयिकों और अफसरों-मंत्रियों को इसकी जानकारी होते हुए भी महामसुन्द में बेखौफ रेत की लूट मची है। कल भी इस खबर की जानकारी मुख्यमंत्री के नजदीकी लोगों तक पहुंचा दी गई थी। लेकिन रेत माफियाओं   को इसकी जरा भी डर नहीं है। लिहाजा हर रोज रेत की चोरी रात के अंधेरे में जारी है। 

यह भी बता दें कि महासमुन्द के विधायक विनोद चंद्राकर का गृह ग्राम खट्टी-परसदा है। यहां रेत की चोरी तो बेखौफ हो ही रही है, हर शाम शराब की खुलेआम बिक्री नदी के बीच, खुली जगह में होती है। जिले के आला अफसरों और कानून के रखवालों की जानकारी केबीच यहां हर रोज देर रात तक गरियाबंद की ओर से शराब लाकर बेचाजाता है। बड़े-बड़े गैलनों में शराब भरकर यहां पहुंचता है और इसे जरकिनों में भरकर बिकवाल ले जाते हैं। कल शाम इसकी खबर लगी और आज पता चला है कि यहां कार्रवाई शुरू है। इस मामले में खल्लारी थानेदार राजेश मिश्रा से बातचीत की कोशिश की गई लेकिन उन्होंने फोन नहीं उठाया और एडिशनल एस पी वेदव्रत सिरमौर ने कहा कि वे इस वक्त रायपुर में हैं और मामले की जानकारी उन्हें नहीं है। विधायक विनोद चंद्राकर के घर पर इस वक्त एयरपोर्ट रायपुर से कुछ अधिकारी पहुंचे हैं लिहाजा उनसे बात नहीं हो सकी है।