breaking news New

स्मार्ट सिटी घोटाले में फंसे IAS विवेक अग्रवाल E-Tendering घोटाले में भी फंस सकते हैं

स्मार्ट सिटी घोटाले में फंसे IAS विवेक अग्रवाल E-Tendering घोटाले में भी फंस सकते हैं

भोपाल, 20 नवंबर। एक मुखबिर ने ईओडब्ल्यू को पहुंचाई सड़क निर्माण के 104 टेंडर में हुए बड़े घोटाले की जानकारियां। स्मार्ट सिटी घोटाले में फंसे वरिष्ठ आईएएस विवेक अग्रवाल अब ई- टेडरिंग घोटाला में भी फंस सकते हैं। 

मुखबिर ने विवेक अग्रवाल के खिलाफ बीओटी के तहत हुए सड़क निर्माण घोटाले की प्रमाणिक जानकारियां ईओडब्ल्यू को सौंप दी हैं। यह जानकारियां देखकर ईओडब्ल्यू के अधिकारी भी चौंक गए। पूरे 104 टेंडर में जमकर घपले-घोटाले किए हैं। इन घोटालों के मास्टर माइंड विवेक अग्रवाल बताए जा रहे हैं। विवेक अग्रवाल मध्यप्रदेश सड़क विकास निगम के मुखिया रहे हैं। ईओडब्ल्यू को सूचना मिली है कि अग्रवाल के कार्यकाल में बीओटी के तहत 104 सड़कों के टेंडर जारी किए गए। इन टेंडरों में जान बूझकर डीपीआर की राशि लगभग दुगनी की गई। इस घोटाले में सड़क बनाने वाली कंपनियों के अलावा दर्जनों बैंक अधिकारी के फंसने की भी संभावना है। 


बताया गया कि ये पूरा घपला-घोटाला कई अरबों रुपए का है। ईओडब्ल्यू बेहद गोपनीय तरीके से इस बात की जांच कर रही है कि 104 टेंडर में बैंक से ली गई राशि लौटाई गई कि नहीं? कितने मामलों में डीपीआर में जानबूझकर राशि बढ़ाई गई।