breaking news New

मुख्यमंत्री आज राजधानी रायपुर में लगभग 33.25 करोड़ रूपए के कार्यों का करेंगे लोकार्पण

मुख्यमंत्री आज  राजधानी रायपुर में लगभग 33.25 करोड़ रूपए के कार्यों का करेंगे लोकार्पण

रायपुर !  मुख्यमंत्री  भूपेश बघेल 24 नवम्बर को राजधानी रायपुर में नागरिक सुविधाओं से संबंधित लगभग 33 करोड़ 25 लाख रूपए की लागत के कार्यों का लोकार्पण करेंगे। ये कार्य रायपुर स्मार्ट सिटी लिमिटेड द्वारा पूर्ण कराए गए हैं।  मुख्यमंत्री  बघेल इनमें से 3 करोड़ 28 लाख रूपए की लागत से निर्मित देवेन्द्र नगर ग्लोबल चौक व सड़क चौड़ीकरण कार्य, लगभग 2 करोड़ 52 लाख रूपए की लागत से आक्सीजोन स्मार्ट रोड में कराए गए कार्य, लगभग 75 लाख रूपए की लागत से कलेक्टोरेट उद्यान में जन सुविधाओं के उन्नयन कार्यों, लगभग 20 करोड़ 70 लाख रूपए की लागत से कराए गए जवाहर बाजार परिसर के सौंदर्यीकरण कार्य, लगभग 6 करोड़ रूपए की लागत से निर्मित नए सिटी कोतवाली थाना भवन और बूढ़ा तालाब में लगाए गए म्यूजिकल फाउंटेन का लोकार्पण करेंगे।

    देवेन्द्र नगर ग्लोबल चौक व सड़क चौड़ीकरण कार्य - आवागमन को सुव्यवस्थित करने रिक्त भू-खंड का सदुपायोग करते हुए नगर निगम, रायपुर स्मार्ट सिटी लिमिटेड व लोक निर्माण विभाग द्वारा देवेन्द्र नगर चौक से एक्सप्रेस वे तक की दूरी के मार्ग के चौड़ीकरण व उन्नयन का कार्य किया गया है। इसमें लोक निर्माण विभाग द्वारा सड़क निर्माण (बी.टी.रोड) किया गया है एवं नगर निगम व रायपुर स्मार्ट सिटी द्वारा मिलकर लगभग 3 करोड़ 28 लाख रूपए की लागत से 47 दुकानों, नाली व सड़क निर्माण कार्य, वृक्षारोपण, चौक सौंदर्यीकरण, विद्युतिकरण कार्य निष्पादित किया गया है। भविष्य में एक्सप्रेेस वे प्रारंभ होने से सघन आवागन के दबाव को व्यवस्थित करने में सड़क चौड़ीकरण का यह कार्य अत्यधिक उपयोगी होगा। 

    ऑक्सीजोन स्मार्ट रोड कार्य - रायपुर स्मार्ट सिटी लिमिटेड द्वारा ऑक्सीजोन के समीप 220 मीटर सड़क का स्मार्ट सड़क के रूप में उन्नयन किया गया है। लगभग 2.52 करोड़ रूपए की लागत से निर्मित इस सड़क में अंडरग्राउंड केबलिंग की व्यवस्था है। इस स्मार्ट रोड में प्रकाश व्यवस्था हेतु सोलर पैनल लगाए गए है। भूमिगत जल निकास व्यवस्था के साथ ही साइनेज व रोड मार्किंग कर इस मार्ग को आकर्षक स्वरूप दिया गया है। 

    कलेक्टोरेट उद्यान में जन सुविधाओं का उन्नयन - कलेक्टोरेट पुलिस अधीक्षक कार्यालय सहित अन्य विभागीय कार्यालयों में आने वाले आम नागरिकों की सुविधा हेतु लगभग 75 लाख रूपए की लागत से कलेक्टोरेट परिसर में आगंतुकों की बैठक व्यवस्था एवं लैंडस्केपिंग, लाइटिंग व पेवर लगाकर आकर्षक उद्यान विकसित किया गया है। 

        जवाहर बाजार परिसर का कायाकल्य - रायपुर स्मार्ट सिटी लिमिटेड द्वारा नगर के सबसे पुराने व ऐतिहासिक जवाहर बाजार में पार्किंग सह व्यवसायिक परिसर निर्माण कार्य पूर्ण किया गया है। लगभग 20 करोड़ 70 लाख रूपए की लागत से इस परिसर के जीर्णोद्धार उपरांत दशकों से किराएदार के रूप में व्यवसाय कर रहे 67 व्यवसायियों को मालिकाना हक प्रदान करने का ऐतिहासिक कार्य भी इस वर्ष छत्तीसगढ़ शासन द्वारा किया गया है। इस योजना के तहत पार्किंग हेतु लोवर बेसमेंट के साथ ही अपर बेसमेंट, ग्राउंड फ्लोर व तीन मंजिला व्यवसायकि परिसर सह साईट डेवलपमेंट का कार्य किया गया है। इस परिसर के जीर्णोद्धार में ऐतिहासिक मुख्य द्वार को यथावत रखा गया है। 

    सिटी कोतवाली थाना निर्माण कार्य - रायपुर स्मार्ट सिटी मिशन के तहत शहर के हृदय स्थल व सघन क्षेत्र में बने पुराने सिटी कोतवाली थाने को सर्वसुवधिायुक्त थाना के रूप में निर्मित किया गया है। इस निर्माण के बाद जहां मुख्य व्यापारिक क्षेत्र में बरसों पुराने सिटी कोतवाली के आसपास यातायात व्यवस्थित हो सकेगा, वहीं हाईटेक स्मार्ट सिटी कोतवाली थाने के सुव्यवस्थित संचालन होगा। लगभग 14 हजार वर्ग फुट के क्षेत्र में कुल 30 हजार वर्ग फुट में भूतल के साथ 6 मंजिल की भवन निर्मित है। लगभग 6 करोड़ रूपए की लागत से इस भवन का निर्माण 10 माह की अल्पावधि में पूर्ण किया गया है। इस भवन के भू-तल में टी.आई. और उनके स्टॉफ के बैठने की व्यवस्था होगी। प्रथम तल मंे ए.एस.आई. एवं टी.आई. के बैठने की व्यवस्था के साथ ही इन्वेस्टिंगेशन हॉल और वेटिंग कक्ष बनाया गया है। द्वितीय तल में मीटिंग कक्ष, डॉक्यूमेंट्स कक्ष और इन्वेस्टिगेशन कक्ष, तृतीय तल में शस्त्रागार, माल खाना, कम्प्यूटर कक्ष और भोजन कक्ष एवं चौथे माले में महिला व पुरूष सिपाहियों के लिए अलग-अलग 50-50 बिस्तरों की क्षमता वाला आराम गृह और रीक्रिएशन कक्ष निर्धारित है। पांचवे माले में सी.एस.पी. और एस.आई. के कक्ष होंगे और पूरे स्टॉफ के लिए वर्क स्टेशन इसी माले में होगा। छठवें माले में 2 बड़े हॉल है, जिसमें मीटिंग और सेमीनार का आयोजन किया जा सकेगा। सिटी मॉनिटरिंग की उन्नत सुविधा इस थाने में उपलब्ध है। 

    बूढ़ा तालाब में म्यूजिकल फाउंटेन की स्थापना - ऐतिहासिक बूढ़ा तालाब के सौंदर्यीकरण के तहत आकर्षक म्यूजिकल फाउंटेन की स्थापना की गई है। यह फाउंटेन देश में क्षेत्रफल के आधार पर सबसे बड़ा फाउंटेन है। इस फाउंटेन के शुरू होने से तालाब की नैसर्गिक भव्यता को आकर्षक स्वरूप मिलेगा।