प्रशासन की सख्ती, लॉकडाउन से शहर में कर्फ्यू सा माहौल

प्रशासन की सख्ती, लॉकडाउन से शहर में कर्फ्यू सा माहौल

धमतरी, 22 सितंबर। कलेक्टर एवं जिला दण्डाधिकारी जयप्रकाश मौर्य ने पिछले दिनों व्यापारिक संगठनों, समाजसेवियों की मांग पर शहर को पूरी तरह लॉकडाउन किये जाने हेतु विचार विमर्श के पश्चात लॉकडाउन करने की घोषणा की थी। उसी परिप्रेक्ष्य में नगरीय निकाय क्षेत्रों को 22 सितंबर से 30 सितंबर तक पूरी तरह लॉकडाउन की परिधि में लाया गया है। इसके पालन हेतु पुलिस अधीक्षक बीपी राजभानू एवं अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक मनीषा ठाकुर रावटे द्वारा बीति रात तमाम अतिरिक्त बलों की बैठक लेकर शहर के चौक-चौराहों में उनकी नियुक्ति की जिसके कारण शहर पूरी तरह वीरान नजर आने लगा। वैश्विक महामारी कोरोना वायरस से बचाने हेतु यह घोषणा की गई है।


वैश्विक महामारी कोरोना कोविड-19 को लेकर समूचे प्रदेश के उन जिलों में जहां यह संक्रमण तेजी से फैल रहा है, इससे बचाव हेतु लॉकडाउन की घोषणा की है। धमतरी जिले में भी लॉकडाउन की मांग को लेकर व्यापारिक संगठनों, समाजसेवियों द्वारा कलेक्टर श्री मौर्य से मिलकर शहर में लॉकडाउन की मांग की थी। लेकिन उन्होंने मिलने गये प्रतिनिधि मंडल से कहा कि वे लॉकडाउन के पूर्व पुलिस अधीक्षक से चर्चा कर इस दिशा में अग्रिम निर्णय लेंगे और उन्होंने चर्चा के पश्चात व्यापारिक संगठनों, समाजसेवियों को बैठक हेतु कलेक्टोरेट सभाकक्ष में बुलाया गया जहां 22 सितंबर से 10 दिन का लॉकडाउन घोषित किया। इस अवधि में तमाम प्रतिष्ठानें बंद रहेंगी। मेडिकल, नर्सिंग होम, पेट्रोल, बैंक आदि चालू रहेंगे। बैंक का समय 11 बजे से 2 बजे तक रखा गया है ताकि लेनदेन करने में किसी को कठिनाई न हो। इसके अतिरिक्त जरूरी वस्तुओं में मेडिकल स्टोर्स, आदि को चालू रखा गया है। लॉकडाउन की परिधि में शराब दुकानें भी पूर्णत: बंद रहेंगी। आज शहर में लॉकडाउन की घोषणा होने के बाद चौक चौराहों में पुलिस बल तैनात कर दिया गया जिसके चलते शहर के चौक चौराहों में विरानी देखी गई। कलेक्टर श्री मौर्य ने गरीब एवं मध्यम श्रेणी के लोगों के लिये आज मंगलवार को शासकीय उचित मूल्य दुकान खोले जाने का निर्देश दिया है। इसके पश्चात यह दुकानें भी बंद हो जायेंगी।


लॉकडाउन की घोषणा के साथ साथ आवश्यक कार्य हेतु नागरिकों से घर से बाहर निकलने की अपील की गई है। साथ ही मास्क और फिजिकल डिस्टेंसिंग को आवश्यक रूप से पालन किये जाने को कहा गया है। बंद के दौरान शहर के चौक चौराहों में मोटर सायकल से निकलने वाले कुछ मनचलों पर चालानी कार्यवाही भी यातायात विभाग द्वारा किया गया है। चौक चौराहों में पुलिस की तगड़ी व्यवस्था के साथ ही पुलिस अधीक्षक श्री राजभानू ने एमडी स्क्वाड, शक्ति टीम प्रत्येक थाना आदि को शहर के भीतरी ईलाकों में भी गश्त कर ऐसे लोग जो अकारण भीतरी ईलाकों में बैठकर गप्पे हांकते हैं उन्हें भी घर के अंदर रहने की सलाह दी गई है। शहर धमतरी के साथ साथ कुरूद, नगरी क्षेत्रों में भी पुलिस विभाग द्वारा इसका पालन करवाया जा रहा है। जिले के नगरीय निकाय क्षेत्रों में लॉकडाउन का खासा असर दिख रहा है। कलेक्टर एवं जिला दंडाधिकारी के द्वारा लॉकडाउन की तिथी निर्धारित करने के पूर्व जिलेवासियों को दो दिन का समय आवश्यक वस्तुएं एवं जरूरत के सामान खरीदने दिये गये थे जिसके कारण शहर के दुकानों में नागरिकों द्वारा अपने जरूरत का सामान व्यापक पैमाने पर खरीदा गया। बंद के पालन हेतु नियुक्त पुलिस विभाग के अधिकारियों द्वारा आवागमन करने वाले कुछ लोगों को रोककर उनसे आने-जाने का कारण, निवास इत्यादि की भी सख्ती से तहकीकात की जा रही है।