breaking news New

कांग्रेस ने प्रदेश भाजपा अध्यक्ष विष्णु देव साय को दी बधाईयां, पार्टी ने खेला आदिवासी कार्ड, पार्टी कार्यकर्ता और नेताओं ने दी शुभकामनाएं

कांग्रेस ने प्रदेश भाजपा अध्यक्ष विष्णु देव साय को दी बधाईयां, पार्टी ने खेला आदिवासी कार्ड, पार्टी कार्यकर्ता और नेताओं ने दी शुभकामनाएं

रायपुर. पूर्व केंद्रीय मंत्री रहे विष्णुदेव साय छत्तीसगढ़ भाजपा के नए अध्यक्ष बनाए गए हैं. राष्ट्रीय महासचिव अरूण सिंह ने आज उनका नियुक्ति् आदेश जारी किया. इसके साथ ही साय को बधाई देने का तांता लग गया. साय पहले भी प्रदेश अध्यक्ष की जिम्मेदारी संभाल चुके हैं। यह उनका तीसरा कार्यकाल होगा। इससे पहले 2006 से 2009 और फिर 2013 तक पार्टी की कमान उनके हाथ में रही।

सूत्रों के मुताबिक नईदिल्ली और प्रदेश के वरिष्ठ नेताओं से चर्चा के बाद साय के नाम पर सहमति बनी. साय के अलावा पूर्व मंत्री अजय चंद्राकर, शिवरतन शर्मा, डॉ. रमनसिंह, नंद कुमार साय, रामविचार नेताम आदि नेता इस पद की दौड़ में थे लेकिन आलाकमान ने विष्णुदेव साय पर दांव खेला है. पार्टी नेताओं से चर्चा के बाद प्रदेश अध्यक्ष पद पर उनके नाम को लेकर सहमति बनी है।

पूर्व सांसद साय को केंद्रीय संगठन और पूर्व मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह का करीबी माना जाता है। उनकी नियुक्ति अगले विधानसभा चुनावों तक के लिए होगी। 1999 से 2014 तक रायगढ़ से सांसद रहे। मोदी-1.0 में केंद्र में मंत्री बनाए जाने के बाद उन्होंने संगठन पद से इस्तीफा दे दिया था। साय को संगठन के साथ ही आरएसएस का भी करीबी माना जाता है।

भाजपा प्रदेश अध्यक्ष की जिम्मेदारी किसी आदिवासी नेता को भी सौंपे जाने की संभावनाएं शुरू से ज्यादा थीं। इसके पीछे तर्क यह है कि नेता प्रतिपक्ष की कुर्सी ओबीसी वर्ग को दी गई है। वहीं, कांग्रेस ने प्रदेश संगठन की जिम्मेदारी एसटी को सौंपी है। राज्य में अब तक ज्यादातर ऐसा ही होता आया है कि दोनों दलों का नेतृत्व एक ही वर्ग के पास रहा है। इससे पहले दोनों दलों की कमान ओबीसी के पास थी।

प्रदेश कांग्रेस ने भी विष्णुदेव साय को टिवटर पर बधाईयां दी हैं तथा उम्मीद जताई है कि साय के नेतृत्व में प्रदेश को एक सशक्त विपक्ष प्राप्त होगा.