breaking news New

केंद्र ने धान नहीं खरीदा तो रोक देंगे कोयला आपूर्ति-राजस्व मंत्री

केंद्र ने धान नहीं खरीदा तो रोक देंगे कोयला आपूर्ति-राजस्व मंत्री

रायपुर, 8 नवंबर। केंद्र सरकार ने छत्तीसगढ़ सरकार को पत्र लिख कर धान खरीदी करने से इंकार करते हुए कहा है कि अगर राज्य सरकार धान खरीदी पर किसानों को बोनस देगी तो केंद्र सरकार चावल नहीं खरीदेगी। केन्द्र के इस निर्णय के बाद राज्य सरकार के सामने धान खरीदी को लेकर संकट पैदा हो गया है। इसी मामले को उठाते हुए राजस्व मंत्री जयसिंह अग्रवाल ने बड़ा बयान दिया है। 

राजस्व मंत्री ने कहा है कि अगर केंद्र सरकार छत्तीसगढ़ का चावल सेंट्रल पुल में नहीं लेती है तो हम कोयले की आपूर्ति रोक देंगे। मालूम हो कि इसके पहले पीसीसी चीफ मोहन मरकाम ने आर्थिक नाकेबंदी का संकेत दिया था। अब प्रदेश सरकार कोयला रोकने की बात कर केंद्र सरकार पर दवाब बनाने का प्रयास कर रही है।

अब कांग्रेस केंद्र सरकार के खिलाफ आर पार के मूड में आ गई है। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के नेतृत्व में 13 नवंबर को दिल्ली पहुंचेगी। कांग्रेस नेताओं के साथ-साथ प्रदेश के किसान भी दिल्ली जाएंगे। केंद्र सरकार द्वारा धान खरीदी नहीं करने के फैसले के खिलाफ 15 नवंबर को दिल्ली में प्रदर्शन करेगी। 

कांग्रेस के प्रदेश प्रभारी पीएल पुनिया ने बताया कि कांग्रेस नेताओं की उच्च स्तरीय बैठक में केंद्र सरकार के खिलाफ आंदोलन करने की तैयारी की गई है। केंद्र सरकार की नीतियों का विरोध 5 नवंबर से शुरू हो गया है, जो दिल्ली में 15 नवंबर को पैदल मार्च के जरिए प्रदर्शन के बाद खत्म होगा।

पुनिया ने बताया कि किसानों से हस्ताक्षर लिये जाएंगे, केंद्र की नीतियों की नाकामी का पोस्टर किसानों और ग्रामीणों के बीच बांटे जाएंगे। उसके बाद ब्लॉक व जिला मुख्यालयों से किसान 12 नवंबर की शाम तक रायपुर पहुंचेंगे और फिर 13 नवंबर की सुबह 9 बजे रायपुर से सड़क मार्ग से दिल्ली के लिए कूच करेंगे।