breaking news New

नो स्कूल नो फीस का मुद्दा सामने रखकर अनेक समस्याओं पर हिन्दू युवा छात्र मंच ने घेरा दुर्ग जिला शिक्षा अधिकारी कार्यालय

नो स्कूल नो फीस का मुद्दा सामने रखकर अनेक समस्याओं पर हिन्दू युवा छात्र मंच ने घेरा दुर्ग जिला शिक्षा अधिकारी कार्यालय

भिलाई, 16 अक्टूबर। 8 वर्षों से छात्र हित में लगातार सक्रिय संगठन हिन्दू युवा छात्र मंच के कार्यकर्ताओं ने विद्यालयीन छात्रों व उनके पालकों को स्कूल फीस व अन्य व्याप्त समस्याओं को लेकर शुक्रवार को जिला शिक्षाधिकारी कार्यालय का सांकेतिक घेराव कर 5 सूत्रीय मांगों को लेकर ज्ञापन सौंपा।

इससे पहले सभी कार्यकर्ता व अध्ययनरत छात्रों के पालकगण पुराना बस स्टैंड में एकत्रित हुए और संगठन प्रमुख गोविन्द राज नायडू के नेतृत्व में नारेबाजी करते हुए रैली की शक्ल में जिला शिक्षाधिकारी कार्यालय पहुंचे, जहाँ जिला योजना समिति के सदस्य एवं पार्षद अरुण सिंह व जिला संयोजक आलोक खापर्डे द्वारा शिक्षा विभाग को छात्रों एवं पालकों की समस्त शिकायतों से अवगत कराया गया, उपस्थित अधिकारी द्वारा आश्वस्त करते हुए 10 दिनों के अंदर सभी शिकायतों के निराकरण की बात कही गई। 


हिंदू युवा छात्र मंच एचवाईसीएम ने अपने ज्ञापन में उल्लेखित मांगों को लेकर अधिकारियों से विस्तृत चर्चा की, जिसमें प्रमुख रुप से यह कहा गया कि - 

1. जब स्कूल नहीं लग रहे तो एडमिशन फीस किस बात की ली जा रही हैं?

2. छात्रों द्वारा घर पर ऑनलाइन क्लासेस अटेंड करने हेतु मोबाईल और डेटा की जिम्मेदारी पालक के सर क्यों..?

3.बोर्ड कक्षाओं के रजिस्ट्रेशन शुल्क के नाम पर कई विद्यालयों द्वारा ज्यादा फीस वसूली जा रही है जिस पर तात्कालिक प्रभाव से रोक लगाई जाए।

4. किन्ही परिस्थितिवश फीस जमा न करने वाले छात्रों के साथ दुर्व्यवहार कर शिक्षा से वंचित क्यों किया जा रहा है जबकि अनिवार्य शिक्षा का अधिकार 2009 की धारा 16 के अनुसार किसी भी प्रवेशित छात्र को शिक्षा से वंचित नही कर सकता है।

5. इस भयावह महामारी से निर्मित स्थिति में छात्रों के पालकों को फीस व पुस्तक कॉपियों के क्रय हेतु निर्धारित स्थान विशेष पर जाने हेतु बाध्य क्यों किया जा रहा है?

इस अवसर पर अध्यक्ष श्रीकुमार नायर, संगठन महामंत्री राजेश शर्मा, कृष्णा चौहान, निशांत सिंह, शिवम सिंह, शिवम मिश्रा, शिबू सोनी, सुधांशु कोसे, सुशील असाटी, दीक्षा यादव आदि सैकड़ों कार्यकर्ता उपस्थित थे।