Breaking : संक्रमण के बीच सीएमओ की पार्टी

Breaking : संक्रमण के बीच सीएमओ की पार्टी


रायपुर। प्रदेश में एक तरफ जहां संविदा स्वास्थ्य कर्मचारियों की जारी हड़ताल से स्वास्थ्य सुविधाएं चरमरा गई है, वहीं कोरोना काल में रायपुर जिले की सीएमओ जश्न मना रही हैं। जहां सोशल डिस्टेंसिंग की खुलेआम धज्जियां उड़ाई गई।
कोरोना संक्रमण काल में शहर में चल रहे लॉकडाउन के बीच पुलिस आम लोगों को पीट रही है। जगह-जगह सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करने, मास्क पहनने की हिदायत दी जा रही है, वहीं मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी कार्यालय में आलम यह है कि सीएमओ बेपरवाह होकर जश्न में व्यस्त हैं। उनकी इस करतूत से आमजन मानस में क्या संदेश जाएगा इसका अंदाजा लगाया जा सकता है। क्या नियम कानून केवल आम आदमी के लिए है, अधिकारियों के लिए नहीं।
स्वास्थ्य चेतना विकास समिति छत्तीसगढ़ के अध्यक्ष वीरेन्द्र नामदेव ने इस मामले में बताया कि कोरोना काल में शुक्रवार को फार्मासिस्ट दिवस पर मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी कार्यालय में जश्न मनाया गया। जिसमें सीएमओ डॉ. मीरा बघेल केक काटती हुई नजर आ रही हैं।  
ज्ञात हो कि सीएमओ पर पहले भी आरोप लग चुके हैं कि वो आदमी की हैसियत देखकर उनको हास्पिटल भिजवा रही हैं। प्राइवेट हास्पिटल के साथ उनकी सांठगांठ है। कमीशन लेकर धनाढ्य वर्ग के लोगों को प्राइवेट  हास्पिटल रिफर कर रही हैं। एम्स, सरकारी अस्पताल और सरकार द्वारा बनाए गए कोविड सेंटर में बेड खाली होने के बावजूद मरीजों को प्राइवेट हास्पिटल में शिफ्ट कराया गया। जहां प्राइवेट हास्पिटल वाले लाखों का बिल बनाकर लोगों को लूट रहे हैं। वहीं दूसरी तरफ आम आदमी को सरकारी अस्पताल में दाखिला तक नहीं मिल पा रहा है और ना ही दवाइयां सुलभ हैं।
————————