एसडीएम मरकाम एस डी ओपी शोभराज अग्रवाल की चाक़ चौबद व्यवस्था से लाॅकडाउन में पसरा सन्नाटा

एसडीएम मरकाम एस डी ओपी शोभराज अग्रवाल की चाक़ चौबद  व्यवस्था से लाॅकडाउन में  पसरा सन्नाटा

सक्ती।  कोविड 19 के बढ़ते प्रभाव को देखते हुये जिला प्रशासन के द्वारा 25 सितंबर से 1 अक्टूबर तक लाॅकडाउन घोषित किया गया है।  वहीं   27 तारीख के शाम अनुविभागीय अधिकारी पुलिस के द्वारा नगर  मै फ्लैग मार्च मोटरसाइकिल से निकालकर नगर के सभी चौक चौराहों पर भ्रमण किया गया कई जगहों पर बेवजह घूमने वालों  को दंड स्वरूप  उठक  बैठक कराया गया।  सख्त हिदायत देते हुए कहा गया कि दोबारा मिलने पर कड़ी कार्रवाई की जाएगी लॉकडाउन को पूरी तरह से सफल बनाने के लिए एस डी एम बी एस मरकाम एस डी ओपी शोभराज अग्रवाल  की बड़ी सजगता नजर आ रही है। 

 नगर के चौक चौराहे पर बेरिकेटिंग कर कर्मचारियों को तैनात कर शख्त हिदायत दिया गया है कोई भी व्यक्ति बैरीकेटिंग से पार करते समय एवं अनावश्यक रूप से घूमने  वाले लोगों से पास की जांच करें नही पाये जाने पर वैधानिक कार्यवाही करे, इतना ही नही एसडीएम  एसडीओपी सुबह से ही नगर के चौक चौराहे एवं गली मोहल्लों का निरीक्षण कर जायज़ा लेने में लगे  रहते हैं।  एसडीएम बी एस मरकाम  एस डी ओपी शोभराज अग्रवाल  के द्वारा सुबह-शाम निरीक्षण  नगर में किया जा रहा है   आपको बता दें पहले भी लाॅकडाउन हुआ था परन्तु  इस तरह से नेहा कक्कर के अंदर देखने को नहीं मिल रहे थे परंतु इस बार चाक-चौबंद व्यवस्था के चलते  बेवजह घर से बाहर निकलने वाले  व्यक्ति नजर नहीं आ रहे अगर कहीं कोई बेवजह घूमते नजर आ रहा है तो उस पर कार्यवाही करते हुए चालान तथा वाहनों की जब्ती बनाने का कार्य पुलिस द्वारा किया जा रहा है। 

  इसी कारण से नगर की सड़कें सुनी नजर आ रही है और लोग लाक डाउन का पालन करते नज़र आ रहे हैं। इस लॉकडाउन में  प्रशासन के द्वारा चाक-चौबंद व्यवस्था देखने को मिल रहा है एसडीएम और एसडीओपी एवं थाना प्रभारी दल बल के साथ सभी बेरीकेट्स पर निरीक्षण कर रहे है वही नगर के चौक चौराहे  पर पैनी नजर रखने के लिये राजस्व विभाग, पुलिस विभाग, नगरपालिका के अधिकारियों एवं कर्मचारियों की ड्यूटी तैनात किया गया है जिसके फलस्वरूप जबरदस्त सन्नाटा देखा जा रहा है सक्ती  नगर में इतना सन्नाटा कभी नहीं देखा गया जितना सन्नाटा इस लॉकडाउन में दिख रहा है।