breaking news New

बचेली में आमचो बस्तर ने मनाया नवाखाई पर्व

बचेली में आमचो बस्तर ने मनाया नवाखाई पर्व

बचेली, 17 अक्टूबर। अम्बेडकर भवन बचेली में मध्य बस्तर की सामाजिक संगठन आमचो बस्तर ने नवाखाई का पर्व बड़े ही हर्षोल्लास से मनाया। समाज प्रमुखों की उपस्थिति में आमचो बस्तर परिवार के पुजारी ने माटी पूजा कर प्रकृति शक्ति को नया चावल और चिवड़ा गुड़ का भोग चढ़ा पूजा अर्चना कर समाज में खुशहाली के लिये अर्जी बिनती की।

 कार्यक्रम का आरंभ समाज प्रमुखों को सम्मानित कर किया गया। पुरुषों के लिये पारंपरिक पगड़ी रश्म अदायगी वही महिला प्रमुखों को शाल पहना कर हल्दी चावल का टीका लगाकर आशीर्वाद लिया गया। समाज के लोगों ने माँ दंतेश्वरी और बस्तर के जननायक शहीद गुण्डाधुर को श्रद्धा सुमन अर्पित कर नवाखाई पर समाज के उत्तरोत्तर उन्नति की कामना की। तद्पश्चात बच्चों और महिलाओं ने नवाखाई पर्व पर आकर्षक रंगारंग प्रस्तुति देकर तालियां भी बटोरी।


विशेष अतिथि के तौर पर पधारे अनुसूचित जाति जनजाति कल्याण समिति के सुनील कर्मा ने अपने उदबोधन में कहा पश्चिमी सभ्यता के बढ़ते प्रभाव की वजह से आज लोग अपने पारंपरिक त्योहारों को भूलते जा रहे है वही इस तरह के सामूहिक आयोजन से लोगों में जहाँ आपसी भाईचारा बढ़ता है वही नई पीढ़ी को अपने सांस्कृतिक विरासत के बारे में ज्ञान भी मिलता है। मिट्टी जो हमें अनाज देती है मिट्टी से ही जीवन का अस्तित्व है। समाज द्वारा अपने हर पर्व पर माटी पूजा की परंपरा वाकई हमें एक नई पहचान देती है। 

इस अवसर पर चंद्रजीत नाग, दया राम नाग, डमरू नाग, बंशी कश्यप, सुखलाल नेताम, रंजीत नागेश, सीताराम,मोहन, गणपति सेठिया, पुरन जायसवाल, तुला राम, नरेन्द्र कश्यप,प्रदीप कुमार,शंकर नेताम,कमलेश राउड, दिलीप नाग,मोहन नायक,ललित पुजारी, झुमुकलाल सहित बड़ी संख्या में आमचो बस्तर परिवार ने इस आयोजन में हिस्सा लेकर भोग प्रसाद ग्रहण किया। कार्यक्रम का संचालन रामचंद्र कश्यप ने किया।