breaking news New

फिल्मों की शूटिंग के लिए लागू होगा सिंगल विंडो स्कीम

फिल्मों की शूटिंग के लिए लागू होगा सिंगल विंडो स्कीम

अजित राय

पणजी, 21 नवंबर। केंद्रीय सूचना और प्रसारण मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने कहा है कि भारत में देशी विदेशी फिल्म की शूटिंग के लिए सरकार जल्दी ही सिंगल विंडो स्कीम लागू करेगी। इससे गोवा, अंडमान निकोबार द्वीपसमूह, लेह लद्दाख सहित दूर दराज के इलाकों को फायदा होगा। पहले इसके लिए पंद्रह बीस सरकारी विभागों से अनुमति लेनी पड़ती थी। अब यह सारा काम एक ही जगह राष्ट्रीय फिल्म विकास निगम के फिल्म फैसिलिटेशन आफिस में हो जाएगा।

उन्होंने कहा कि सिनेमा भारत की सबसे महत्वपूर्ण साफ्ट पावर है। इसे अब दुनियाभर में लोकप्रियता मिल रही है। हमें सिनेमा की इस ताकत को बढ़ाने के लिए हर संभव प्रयास करने चाहिए। उन्होंने कहा कि इस बार गोवा फिल्मोत्सव में दृष्टि बाधित दिव्यांग सिनेमा प्रेमियों के लिए कुछ फिल्मों के श्रव्य विवरण (आडियो कमेंटरी) संस्करण प्रर्दशित किए जा रहे हैं जो एक नई पहल है। इससे वे लोग भी सिनेमा का आनंद ले सकते हैं जिनकी आंखों की रोशनी चली गई थी। सिनेमा एक आनंद है और हमारा फर्ज है कि हम इसे दिवयांग लोगों तक ले जाएं। उन्होंने भारतीय फिल्म उद्योग से अपील की कि ज्यादा से ज्यादा फिल्मों के आडियो कमेंट्री संस्करण प्रर्दशित किए जाएं।


पणजी (गोवा) के श्यामा प्रसाद मुखर्जी इंडोर स्टेडियम में भारत के 50 वें अंतरराष्ट्रीय फिल्म समारोह की भव्य रंगारंग शुरुआत हुई।  केंद्रीय सूचना एवं प्रसारण मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने केंद्रीय मंत्री बाबुल सुप्रियो, अमिताभ बच्चन और रजनीकांत के साथ समारोह का शुभारंभ किया। बालीवुड के प्रसिद्ध फिल्म निर्माता करण जौहर ने समारोह को होस्ट किया। इस अवसर पर रमेश सिप्पी, एन चंद्रा और पी पी श्रीराम को सम्मानित किया गया। प्रसून जोशी, सुभाष घई, राहुल रवैल, प्रियदर्शन, मधुर भंडारकर, शाजी एन करूण, ए के बीर, सिद्धार्थ रॉय कपूर आदि की उपस्थिति में शंकर महादेवन ने शास्त्रीय संगीत के फ्यूजन से समारोह में समां बांध दिया।

ब्रिटेन के  सुप्रसिद्ध वामपंथी फिल्मकार ने अपने वीडियो संदेश में कहा है कि सिनेमा के जरिए हम नई पीढ़ी को बेहतर दुनिया प्रदान करने के लिए संघर्षरत हैं। यह दुनिया अमीरों और गरीबों में बंटी हुई है। सिनेमा का काम इस भेदभाव को खत्म करने के लिए जनमत तैयार करना है।

गोवा के मुख्यमंत्री प्रमोद सावंत ने कहा कि भारत में  तीस भाषाओं में करीब दो हजार फिल्में हर साल बनती है। नए जमाने में जहा नौजवान मोबाइल पर फिल्म निर्माण की दिशा में बढ़ रहे हो, उन्हें सही मार्गदर्शन चाहिए। गोवा फूड, फुटबॉल और फिल्म की धरती है जहां हर समय म्यूजिक, डांस और फेस्टिवल चलता रहता है। अंतरराष्ट्रीय फिल्म समारोह के लिए गोवा से अच्छी जगह और नहीं हो सकती।

इस अवसर पर फ्रांस की मशहूर अभिनेत्री इजाबेल हपर्ट को लाइफटाइम अचीवमेंट अवॉर्ड प्रदान किया गया वहीं दक्षिण भारत के दिग्गज अभिनेता रजनीकांत को आइकन आफ द गोल्डन जुबली आफ इफी सम्मान से नवाजा गया।करण जौहर ने अंतरराष्ट्रीय जूरी के अध्यक्ष जान बेली और दूसरे सदस्यों का परिचय कराया। रजनीकांत ने सबका आभार जताते हुए कहा कि अमिताभ बच्चन उनकी सबसे बड़ी प्रेरणा रहे हैं।

अमिताभ बच्चन ने कहा कि उनकी सबसे बड़ी ताकत उनके दर्शक है जिन्होंने हमेशा उनका साथ दिया। उनपर उनके दर्शकों का बहुत बड़ा ऋण है जिसे वे कभी उतार नहीं पाएंगे और वे इसे उतारना भी नहीं चाहते।

इटली के गोरान पास्कलजेविक की फिल्म "इंस्पाइट द फाग" के प्रर्दशन के साथ यहां पणजी ( गोवा) के कला अकादमी के दीनानाथ मंगेशकर सभागार में भारत के 50 वें अंतरराष्ट्रीय फिल्म समारोह का शुभारंभ हुआ।