breaking news New

ऐसा दिन आएगा जब पीओके के लोग खुद करेंगे भारत में विलय की मांग: सत्यपाल मलिक

ऐसा दिन आएगा जब पीओके के लोग खुद करेंगे भारत में विलय की मांग: सत्यपाल मलिक

श्रीनगर। जम्मू-कश्मीर में पाकिस्तान की ओर से जारी तनाव पैदा करने की कोशिशों के बीच राज्यपाल सत्यपाल मलिक ने शनिवार को कहा कि एक दिन ऐसा आएगा जब पीओके भारत का हिस्सा बन जाएगा। केंद्रीय मंत्री जितेंद्र सिंह के बाद अब राज्यपाल सत्यपाल मलिक ने भी राज्य के जम्मू जिले में आयोजित एक कार्यक्रम में कहा कि भविष्य में एक ऐसा दिन भी आएगा, जब पीओके के लोग पाकिस्तान के हिस्से वाले कश्मीर के भारत में विलय की मांग करेंगे।
राज्यपाल ने कहा कि जब मैं जम्मू-कश्मीर आया था तो पीएम ने मुझसे कहा था कि राज्य को इतना चमका दो कि पाक अधिकृत कश्मीर का इंसान एलओसी पार कर यहां आने चाहे और वह कहे कि यह हमारा कश्मीर है।
मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, जम्मू में एक कार्यक्रम को संबोधित करते हुए राज्यपाल ने कहा कि एक दिन ऐसा भी होगा, जब पाक अधिकृत कश्मीर में रहने वाले लोग भारत का हिस्सा बनने की मांग करेंगे। वहीं एक अन्य कार्यक्रम के दौरान मलिक ने कहा कि पहले राज्य के राज्यपाल का मतलब गोल्फ खेलना और शौक भर के काम करना होता था। राज्यपाल बनना पहले आराम करने की ड्यूटी भर होती थी, लेकिन हम लोगों ने ऐसा नहीं किया। हमने पिछले एक साल में जितना काम किया है, कोई चुनी हुई सरकार भी इतना काम नहीं कर पाई है।
सत्यपाल मलिक के इस बयान से पहले सेना प्रमुख जनरल विपिन रावत ने भी कहा था कि पीओके जैसे विषयों पर सरकार को फैसला करना है और देश की संस्थाएं सरकार के अनुसार ही चलती हैं। जहां तक बात सेना की है तो आर्मी किसी भी कार्रवाई के लिए पूरी तरह से तैयार है। इस बयान से पहले जितेंद्र सिंह ने मंगलवार को अपनी सरकार की उपलब्धियां गिनवाते हुए कहा था कि मोदी सरकार ने अपने 100 दिन के कार्यकाल में जम्मू-कश्मीर से 370 हटाने का एक ऐतिहासिक फैसला किया है। अब सरकार का अगला एजेंडा पाक अधिकृत कश्मीर को भारत का हिस्सा बनाना है।
पाकिस्तान सरकार में मची है खलबली
बता दें कि पाक अधिकृत कश्मीर पर सरकार की ओर से कई बयान आने के बाद भारत सरकार में खलबली मची हुई है। पीओके में भारत की ओर से कोई बड़ी कार्रवाई होने की सुगबुगाहट भर से पाकिस्तान ने यहां बड़ी मात्रा में अपने जवानों को तैनात कर दिया है। इसके अलावा पाकिस्तानी पीएम लगातार पीओके को लेकर भड़काऊ बयानबाजी कर रहे हैं। शुक्रवार को इमरान ने पीओके में अपनी रैली के दौरान लोगों को एलओसी के पास जाने के लिए भड़काने की कोशिश की थी।
जीओसी ने पाकिस्तान को दी सख्त चेतावनी
पाकिस्तानी पीएम के इस बयान के अगले ही दिन शनिवार को ही सेना की उत्तरी कमान के जीओसी लेफ्टिनेंट जनरल रणबीर सिंह ने कहा था कि अगर पाकिस्तान की ओर से किसी भी तरह से लोग एलओसी के पास आने या इसे पार करने की कोशिश करते हैं तो सेना उन्हें रोकने के लिए प्रभावी कार्रवाई करेगी। जीओसी ने पाकिस्तान को स्पष्ट शब्दों में चेतावनी देते हुए कहा था कि वह ढाल की तरह पीओके के लोगों के इस्तेमाल ना करे। ले. जनरल सिंह ने कहा था कि अगर कोई भी एलओसी पार करने या इसके पास आने का प्रयास करेगा तो जवाबी कार्रवाई के दौरान ऐसे लोगों की मौत होने पर इसकी पूरी जिम्मेदारी पाकिस्तान सरकार और वहां की सेना की होगी।