breaking news New

पुलिस लाइन कारली में देश के शहीदों को याद कर दी गई श्रद्धांजलि

पुलिस लाइन कारली में देश के शहीदों को याद कर दी गई श्रद्धांजलि


दंतेवाड़ा देश की रक्षा हेतु अपने कर्तव्य का निर्वाहन करते हुए अपने प्राणों की आहुती देने वाले देश के अमर शहीदों को सोमवार 21 अक्टूबर को प्रात: 09:00 बजे दंतेवाड़ा जिला के  पुलिस लाईन कारली स्थित शहीद स्मारक स्थल पर आयोजित समारोह में पुलिस अधिकारी-कर्मचारीयों और शासन-प्रशासन के अधिकारी-कर्मचारियों एंव जनप्रतिनिधियों  द्वारा श्रद्धांजलि दी गई।
पुलिस अधीक्षक अभिषेक पल्लव द्वारा समारोह को संबोधित करते हुए कहा गया कि 21 अक्टूबर 1959 में लद्धाक में तीसरी बटालियन की एक कंपनी को भारतीय तिब्बत सीमा सुरक्षा के लिये लद्धाक में हाट स्प्रिंग में तैनात किया गया था। कपंनी को टुकड़ी में बाटकर चैकसी करने को कहा गया। जब बल कि 21 जवानों का गष्ती दल हाट स्प्रिंग में गष्त कर रहा था तभी चीनी फौज के एक बहुत बड़े दस्ते ने इस गष्ती टुकड़ी पर घात लगाकर आक्रमण कर दिया। तब बल के मात्र 21 जवानों ने चीनी आक्रमणकारियों का डटकर मुकाबला किया व मातृभुमि के रक्षा के लिये लड़ते हुए 10 षूरवीर जवानो ने अपने प्राणो का बलिदान दिया हमारे बल के लिये व हम सबके लिये यह गौरव की बात है कि केन्द्रीय पुलिस संगठनो व सभी राज्यो की पुलिस द्वारा पुलिस स्मृति दिवस के रूप में मनाया जाता है।  प्रतिवर्ष 21 अक्टूबर को देश के कोने-कोने में दिवंगत सूरवीरो की स्मृति में पुलिस शहीद दिवस पर परेड का आयोजन किया जाता है इन वीरों का बलिदान भारतीय पुलिस के कार्यों की उच्चतम परम्पराओं का प्रतीक है तथा कर्तव्य निष्ठा का अनुपम आदर्श प्रस्तुत करता हैए कहा गया इसके पश्चात देश के प्रति प्राण न्यौछावर करने वाले देश के 292 षहीद जवान जिसमें से छत्तीसगढ़ के 14 शहीद जवानों का नाम वाचन किए जाने के बाद लास्ट पोस्ट की धून बजाकर श्रद्धांजलि अर्पित की गयी।  इस मौके पर कलेक्टर टोपेश्वर शर्मा एसपी अभिषेक पल्लव विधायक देवती कर्मा जिला पंचायत अध्यक्ष कमला विनय नाग ओजस्वी मंडावी और अधिकारी मौजूद रहे।