breaking news New

दंतेवाड़ा : पुलिस नक्सल मुठभेड़ में मारे गए 5-5 लाख के दो नक्सली

दंतेवाड़ा : पुलिस नक्सल मुठभेड़ में मारे गए 5-5 लाख के दो नक्सली


छत्तीसगढ़ दंतेवाड़ा जिले में सुरक्षाबलों और नक्सलियों के बीच हुई मुठभेड़ में जवानों ने दो नक्सलियों को मार गिराया। शुक्रवार रात हुई मुठभेड़ में मारे गए नक्सलियों पर एक एक लाख का ईनाम घोषित था। दोनों नक्सलियों की शिनाख्त मलांगीर एलओएस सदस्य लछु मंडावी व गुमियापाल जनमिलिशिया कमांडर पोड़िया के रूप में की गई है। घटना किरंदुल थानाक्षेत्र के कुटरेम क्षेत्र की बताई जा रही है।
दंतेवाड़ा एसपी अभिषेक पल्लव ने घटना की पुष्टि करते हुए बताया, ऑपरेशन संयुक्त रूप से दंतेवाड़ा जिला रिजर्व गार्ड और किरंदुल पुलिस द्वारा चलाया गया था। मारे गए नक्सलियों में पांच-पांच लाख के दो नक्सली हैं। वहीं मौके से नक्सलियों के शव के साथ एक इटली में बनी पिस्टल व एक 12 बोर रायफल बरामद किया गया।



  मुठभेड़ के बाद घटना स्थल से 9 एमएम की इटली मेड पिस्टल और एक 12 बोर भी बरामद हुई। मारे गए माओवादियों पर 21-21 मामले पंजीबद्ध थे। इनकी पुलिस को लंबे अरसे से तलाश थी। पुलिस अधिकारियों की बात माने तो चोलनार ब्लास्ट 6 जवान शहीद। मदाडी ब्लास्ट में भी आधा दर्जन जवान शहीद, ,एसपी1 में एआईएसएफ के आधा दर्जन जवान शहीद हुए थे। मलैंगिरी एरिया में जो भी मुठभेड़ हुई या जवानों को नुकसान हुआ ये उसमें भी शामिल रहे है। हाल ही गुमिया पाल के ग्रामीणों के अपहरण मामले का पोडिया मास्टर माइंड था।

पुलिस को 11 तारीख को सूचना मिली कि सीसी मेंबर के साथ 60 से 70 नक्सली कुटरेम के जंगल में मौजूद है। नक्सली उप चुनाव में बड़ी वारदातों कों अंजाम देने के लिए प्लानिंग कर रहे है। 11 सितंबर को सीआरपीएफ को निकाला गया। आॅपरेशन के लिए निकली फोर्स ने तनेली,गुमियापाल पेड़का के जंगल को सर्च किया। फोर्स को देख नक्सली दो टुकड़ियों में बंट गए। इधर डीआरजी को पुलिस अधिकारियों ने बैकअप के लिए भेजा। शुक्रवार रात करीब 12 बजे कुटरेम के जंगल मे डीआरजी से मुठभेड़ हुई।   इस मुठभेड़ में बताया जा रहा नक्सलियों की मिलिट्री दलम मौजूद थी। फोर्स को भारी पड़ता देख नक्सली अपने साथियों के शव छोड़ कर भागे।