breaking news New

Manrega : दस महीने से नही मिली मजदूरी, दीवाली नजदीक आने से मजदूरों की चिंता बढ़ी, ग्राम पंचायतों के सरपंच भी परेशान

Manrega : दस महीने से नही मिली मजदूरी, दीवाली नजदीक आने से मजदूरों की चिंता बढ़ी, ग्राम पंचायतों के सरपंच भी परेशान

रायपुर. महात्मा गांधी राष्ट्रीय रोजगार गारंटी अधिनियम (मनरेगा) के तहत काम करने वाले मजदूरों को अब तक मजदूरी नही मिल सकी है. मजदूरों से मनरेगा के तहत काम लिया तो गया लेकिन करीब दस महीने बीत गया है, अब तक भुगतान नहीं किया गया है. दीपावली नजदीक है ऐसे में हजारों मजदूरों के सामने संकट खड़ा हो गया है.

आरंग विकास खंड के ग्राम पंचायत अमसेना सरपंच उबारण ढीढी ने बताया कि मनरेगा के तहत गाँवो में तालाब गहरी कारन और मंडी के चबूतरे निर्माण का कार्य करवाया गया था जिसमे करीब 500 मजदूरों का भुगतान की राशि शासन स्तर से पास नहीं हुआ है, इस वजह से मनरेगा के मजदूरों का भुगतान अटका हुआ है। उन्होंने कहा कि अकेले अमसेना पंचायत की बात नहीं है. यही हाल प्रदेश के लगभग हर पंचायतो में होगा।

सरपंच ने कहा कि मनरेगा के भुगतान के लिए विकास खंड ऑफिस में कई बार सीईओ के पास जा चुके हैं लेकिन अब तक कोई हल नहीं निकला है। इतना ही नहीं कुछ दिनों बाद दीपावली है और मजदुर रोज सुबह शाम अपनी मजदूरी के लिए घरों तक आ जा रहे हैं। सामने चुनाव भी हैं, इससे हमारी छवि भी धूमिल हो रही है।

दीपावली से पहले होगा भुगतान : डॉ. गौरव पाल
दूसरी ओर रायपुर जिला पंचायत के सीईओ डॉ. गौरव पाल ने बताया कि दीपावली से पहले मनरेगा का भुगतान हो जायेगा. थोड़ी सी दिक्क़तें जरूर हुयी हैं, उसे जल्द ही दूर कर लिया जायेगा। उन्होंने कहा कि शासन को हम समस्या से अवगत करा चुके हैं, जल्द ही बजट आने के बाद मनरेगा के मजदूरों की राशि दे दी जाएगी।