breaking news New

फ्रांस में राजनाथ बोले- सोचा नहीं था रफाल एयरक्राफ्ट में भरूंगा उड़ान

फ्रांस में राजनाथ बोले- सोचा नहीं था रफाल एयरक्राफ्ट में भरूंगा उड़ान

नई दिल्‍ली। भारतीय वायुसेना के लिए 8 अक्टूबर का दिन ऐतिहासिक रहा। फ्रांस से रफाल लड़ाकू विमान हासिल करने व उसमें उड़ान भरने के बाद रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा जिंदगी में कभी सोचा नहीं था कि रफाल एयरक्राफ्ट में उड़ान भरूंगा।
तेजस में भी उड़ान भर चुके हें राजनाथ - इससे पहले रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह रफाल विमान की शस्त्र पूजा की। उसके बाद रफाल की करीब 30 मिनट की उड़ान भरी। इससे पहले हाल ही में राजनाथ सिंह ने भारत में तेजस विमान उड़ाया था। उड़ान के दौरान उनके साथ दसॉ एविएशन के हेड टेस्ट पायलट फिलिप ड्यूचेटो मौजूद रहे।
बेमिसाल अनुभव - रफाल में उड़ान भरने के बाद रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि ये उड़ान बेहद रोमांचक और बहुत आरामदायक रहा। ये पल बेमिसाल और अनोखा था। मैंने कभी नहीं सोचा था कि एक दिन मैं किसी सुपरसोनिक स्पीड एयरक्राफ्ट में उड़ान भरूंगा।
उन्होंने कहा कि यह हमारी आत्मरक्षा का एक हिस्सा है न कि किसी के खिलाफ आक्रामकता का संकेत। ये एयरक्राफ्ट भारतीय सुरक्षा व्‍यवस्‍था के लिए प्रतिरक्षा का काम करेगी।
वाजपेयी और शिराक के प्रति जताया अभार - रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने रफाल विमान हासिल करने के बाद कहा कि पूर्व फ्रांसीसी राष्ट्रपति जैक्स शिराक ने पूर्व भारतीय प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के साथ मिलकर रणनीतिक साझेदारी के लिए मूल आधार तैयार किया था। हम उनके आभारी हैं। आज का दिन भारत और फ्रांस के लिए मील का पत्थर और द्विपक्षीय रक्षा सहयोग की नई ऊंचाई का दिन है।
विमान पर ऊं लिखकर की पूजा - राजनाथ सिंह ने विमान सौंपे जाने के बाद शस्त्र पूजा की। इस दौरान उन्होंने विमान पर ऊं लिखकर पूजा की। इतना ही नहीं रफाल की टेस्टिंग उड़ान से पहले उसके पहियों के नीचे दो नींबू भी रखे गए जो कि धार्मिक रीति-रिवाजों का हिस्सा माना जाता है।
केंद्रीय मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि फरवरी, 2021 तक हम 18 रफाल विमानों की डिलीवरी हासिल करेंगे। अप्रैल-मई 2022 तक हमें सभी 36 विमान मिल जाएंगे। पहले चार विमानों की खेप मई 2020 तक भारत पहुंच जाएगी।