breaking news New

आर्थिक सुस्ती: आज बड़े ऐलान कर सकती हैं - वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण

आर्थिक सुस्ती: आज बड़े ऐलान कर सकती हैं  - वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण


नई दिल्ली। आर्थिक सुस्ती को लेकर चारों तरफ से आलोचनाओं का सामना कर रही केंद्र सरकार इकॉनमी को रफ्तार देने के लिए शनिवार को एक बार फिर अहम घोषणाएं कर सकती हैं। केंद्रीय वित्त मंत्री शनिवार को यहां नैशनल मीडिया सेंटर में अपराह्न दो बजे एक प्रेस कॉन्फ्रेंस करेंगी। इसकी जानकारी पीआईबी ने ट्वीट कर दी है। इस प्रेस कॉन्फ्रेंस में वित्त मंत्री ऑटोमोबाइल, एनबीएफसी, बैंकिंग, रियल एस्टेट तथा अन्य सेक्टर्स के लिए बड़े ऐलान कर सकती हैं।
अर्थव्यवस्था को रफ्तार देने के लिए वित्त मंत्री ने पिछले दिनों कई ऐलान किए थे। इनमें निर्यात क्षेत्र के लिए 30 दिनों में जीएसटी रिफंड, ऑटो इंडस्ट्री को राहत, बैंकों में 70 हजार करोड़ रुपये की पूंजी डालने सहित कई घोषणाएं की थीं। शेयर बाजार को बिकवाली के दौर से निकालने के लिए वित्त मंत्री ने फॉरेन पोर्टफोलियो इन्वेस्टर्स (एफपीआई) तथा घरेलू संस्थागत निवेशकों (डीआईआई) पर बढ़े सरचार्ज को वापस लेने का ऐलान किया था।
बता दें कि अर्थव्यवस्था में सुस्ती को लेकर सरकार पर विपक्ष हमलावर है। पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने कहा है कि केंद्र की नोटबंदी तथा जीएसटी जैसी नीतियों के कारण अर्थव्यवस्था पटरी से उतर गई है। उन्होंने कहा कि सरकार यह स्वीकार तक करने के लिए तैयार नहीं है कि देश की अर्थव्यवस्था संकट में घिर गई है। पूर्व प्रधानमंत्री ने सरकार को चेताते हुए कहा कि नरेंद्र मोदी के नेतृत्व वाली केंद्र सरकार को अखबारों में सुर्खियां बटोरने की राजनीति से बाहर निकलने और देश के समक्ष आर्थिक चुनौतियों से निपटने की जरूरत है।
मनमोहन सिंह ने कहा, 'हम इस बात से इनकार नहीं कर सकते हैं कि देश आर्थिक संकट से जूझ रहा है। पहले ही, काफी सारा समय निकल चुका है। हर क्षेत्र को राहत देने के लिए अलग-अलग उपाय करने के दृष्टिकोण में राजनीतिक ताकत का व्यर्थ इस्तेमाल करने या नोटबंदी जैसी ऐतिहासिक गलती करने के बजाय सरकार के लिए अगली पीढ़ी का स्ट्रक्चरल रिफॉर्म करने का सही वक्त आ गया है।'