breaking news New

लॉकडाउन के चलते होटलों को दो हजार करोड़ का झटका

लॉकडाउन के चलते होटलों को दो हजार करोड़ का झटका

  रायपुर।    प्रदेश में छोटे-बड़े मिलाकर 1500 से अधिक होटल हैं। इन होटलों को करीब 2000 करोड़ का झटका लगा है। इससे  5000 लोग बेरोजगार हुए हैं।  राजधानी के कई बड़े होटलों की बिक्री की चर्चा भी  शुरू हो गई है।  वीआइपी रोड स्थित एक बड़े होटल समूह की बिक्री का मामला  कीमत पर अटका हुआ है।

 24 मार्च की मध्य रात्रि से लगे लॉकडाउन के चलते होटल पूरी तरह से बंद थे। प्रदेश में 28 जून से होटल खोले गए।  रेस्टोरेंट को पार्सल सुविधा शुरू करने के साथ खोलने की अनुमति दी गई। लेकिन कोरोना प्रभाव इतना है कि होटलों में काफी कम ग्राहक पहुंच रहे हैं। 

 छत्तीसगढ़ होटल एंड रेस्टोरेंट एसोसिएशन के संरक्षक कमलजीत सिंह होरा ने बताया कि होटल इन दिनों कोरोना के प्रभाव के चलते बुरी स्थिति में हैं। इन्हें बचाने के लिए सरकार को जरूरी कदम उठाने चाहिए।

 होटल कारोबारियों का कहना है कि लॉकडाउन की अवधि में होटल पूरी तरह से बंद रहे और आय शुन्य रही। इसलिए लॉकडाउन की अवधि का बिजली बिल पूरी तरह से माफ हो। एक साल की प्रॉपर्टी टैक्स में छूट मिले, बार फीस व मिनिमम गारंटी में छूट मिले, कर्मचारियों का वेतन के लिए भी प्रदेश  सरकार को मदद करनी चाहिए।