breaking news New

प्रदेश में गोवंश हेतु चारागाह भूमि की मांग करेगा ब्रह्म शक्ति परिषद

प्रदेश में गोवंश हेतु चारागाह भूमि की मांग करेगा ब्रह्म शक्ति परिषद

थानखम्हरिया। देश-सनातन धर्म एसम्पूर्ण मानव समाज व गो ब्राह्मण हित के ध्येय को लेकर सार्थक उद्देश्य के साथ संगठित ब्रह्म शक्ति परिषद छत्तीसगढ़  की  बैठक थानखम्हरिया श्री परशुराम भवन में सपंन्न हुई। बैठक में विशेष रूप से निर्णय लेते हुए चर्चा की गई कि कुछ असहिष्णु असमाजिक प्रवित्ति के लोगो के द्वारा हिन्दू समाज के लोगों को विशेष वर्ग सनातन धर्म और आस्था के प्रति कुचक्र और रणनीतिपूर्वक आमजन भावना को भड़काने व समाजिक समरसता को तोडऩे की दिशा में काम किया जा रहा है। खासकर सोशल मीडिया वाट्सएप और फेस बुक के माध्यम से ऐसे असामाजिक प्रवित्ति के लोग किसी भी देश समाज और धर्म के लिए कैंसर की तरह भयावह: है अत: निर्णय लिया गया कि इस तरह के कुचक्रों के प्रति लोगों को जागरूक किया जाए। सनातन धर्म का प्रचार प्रसार किया जाए साथ ही शासन प्रशासन का सहयोग लिया जाए गो-हित के विषय में गो-चारागाह घांस भूमिद्ध की व्यवस्था प्रत्येक ग्राम व शहर स्तर में राईट-टू-इट एक कानून की तहत व्यवस्थित व संरक्षित की जाए इस विषय को लेकर छत्तीसगढ़ शासन से मांग हेतु पत्र सौंपा जाएगा।
ब्राह्मण समाज के लोगो को वैदिक धर्म और कर्म के प्रति और अधिक जागरूक व संगठित किया जाए संस्कृत भाषा देव वाणी का प्रचार-प्रसार किया जाए। धर्मिक कार्यों में जैसे जन्माष्टमी तीज आदि तिथियों व उत्सवों को लेकर लोगो में पंचांग और कैलेंडरों को लेकर जो भ्रम की स्थिति निर्मित हो जाती है यथासंभव इन परिस्थियों का शंका समाधान किया जाए ताकि विभिन्न पर्वों और उत्सव को मनाने में एकरूपता हो इस हेतु छग के वरिष्ठ विद्वानों के मार्गदर्शन में इस विषय पर उचित कदम हेतु योजना पर कार्य किया जाए जिससे यजमान और जन मानस भ्रमित न हो। इस तरह से समाज हित में अनेकों विषयों को लेकर चर्चा किया गया। बैठक में क्षेत्रीय और दुरस्त क्षेत्र से आए हुए युवा विद्वानों का समागम हुआ जिनमें निम्न विद्वानों ने अपनी उपस्थिति प्रदान किये पं. जितेंद्र तिवारी चैतन्य खम्हरिया पंण्रितेशानन्द ;बरगा पं. मोनुदेव महाराज भिलाई पं सूर्यानंद महाराज रायपुर पं. प्रदीप शुक्ल रायपुर प. भेखज शुक्ल बेमेतरा पं. महेश दुबे खम्हरिया एपं. मारुती शरण खम्हरिया पं. छत्रपाल खम्हरिया पं. रविकान्त हांटरांका पं. नन्दकुमार शास्त्री कवर्धा  पं धर्मेंद्र शास्त्री पण्डरिया पं. मुरली कवर्धा उपस्थित रहे व परिषद के अन्य सदस्य गण पं. नितेश शास्त्री बनराका पं. लक्ष्मीकांत उपाध्याय रायपुर पंण्आचार्य गोपेश कवर्धा आचार्य युवराज शास्त्री रायपुर पं. अजय चौबे रायपुर पं. पूर्णानन्द  भिलाई पं. नन्दकुमार खैरागढ़ हैं।