breaking news New

बारिश में जानलेवा साबित हो रहे कीचड़ रूपी दलदल

बारिश में जानलेवा साबित हो रहे कीचड़ रूपी दलदल

थानखम्हरिया, 12 सितंबर। नगर का दुर्भाग्य कहें या दुर्दशा कि नगर में प्रवेश से पहले ही देनी पड़ती है अग्नि परीक्षा। दुर्घटना का सबब बने थानखम्हरिया . कारेसरा मार्ग निर्माण की लेट लतीफी से नागरिक हलाकान हो चुके हैं। मार्ग निर्माण की धीमी गति ने अनेक लोगों की जान ले ली तथा अनेक चोटिल हुये जिनमें से तो कुछ जीवन भर के लिये अपाहिज बन गये। निर्माण अवधि बीते कई महिने गुजर गये फिर भी काम अपूर्ण हैं।
भारत सरकार विकास प्राधिकरण योजनांतर्गत तकरीबन सौ करोड़ रुपये की लागत से मार्ग का निर्माण कार्य चल रहा है। मार्ग के अनेक हिस्सों को अधूरा छोड़ दिया गया है जिससे वाहन चालक दुर्घटना के शिकार हो रहे हैं। मार्ग अभी पूर्ण भी नहीं हुआ है और कई जगह अमानक कार्य की पहचान दिखने लगी है। ठेकेदार द्वारा निर्माण कार्य का कहीं कोई संचेतक बोर्ड नहीं लगाया गया है जो घोर लापरवाही को उजागर कर रहा है।  उक्त निर्माणाधीन मार्ग पर न डस्ट डाला गया है न मुरम। न ही जगह जगह हुए बड़े बड़े गड्ढों को भरा गया है जिसके चलते आये दिन लोगों को भारी मुसीबतों का सामना करना पड़ रहा है। नगर के मार्ग की स्थिति बहुत दयनीय हो गयी है। बड़े-बड़े गड्ढे और उनमें भरा बारिश का पानी दुर्घटना को आमंत्रण दे रहा है। नागरिकों का इस सड़क में चलना दूभर हो गया है। महिलायें तथा बच्चे तो घर से निकलना ही मुनासिब नहीं समझते। आये दिन लोगों में वाद . विवाद की स्थिति निर्मित हो रही है। जिस ढंग से निर्माण कार्य चल रहा है उसमें अधिकारियों तथा नेताओं के संरक्षण की बू आ रही है।  जानकारी के अनुसार नगर सहित क्षेत्र के कुछ लोग स्थानीय विधायक तथा कृषि मंत्री रविन्द्र चौबे से मिलकर उक्त समस्याओं से अवगत करवाते हुए समस्या के तत्काल निराकरण की मांग करेंगे।