breaking news New

Shriram हम देश की सबसे बड़ी गैर-बैंकिग फायनांस कंपनी, श्रीराम ट्रांसपोर्ट फायनांस कंपनी लिमिटेड के प्रबंध निदेशक उमेश रेवनकर, राजधानी में क्षेत्रीय कार्यालय का उदघाटन

Shriram हम देश की सबसे बड़ी गैर-बैंकिग फायनांस कंपनी, श्रीराम ट्रांसपोर्ट फायनांस कंपनी लिमिटेड के प्रबंध निदेशक उमेश रेवनकर, राजधानी में क्षेत्रीय कार्यालय का उदघाटन
अनिल द्विवेदी

रायपुर. श्रीराम ट्रांसपोर्ट फायनांस कंपनी लिमिटेड के प्रबंध निदेशक एवं मुख्य कार्यकारी अधिकारी उमेश रेवनकर ने कहा है कि कंपनी का अभी भारत से बाहर व्यवसाय करने की कोई योजना नही है. जब​ तक हमें विदेशों में कोई साझेदार नही मिलता, तब तक आगे बढ़ना मुश्किल है लेकिन भारत में कंपनी तेज गति से बढ़ रही है. हमारी 1669 शाखाएं हैं तथा कंपनी 20 लाख से अधिक संतुष्ट ग्राहकों के साथ 1.08 लाख करोड़ रुपये की परिसंपत्तियों का प्रबंधन करती है.

श्री रेवनकर राजधानी रायपुर में श्रीराम ट्रांसपोर्ट फायनांस कंपनी लिमिटेड के क्षेत्रीय कार्यालय का लोकार्पण करने पहुंचे थे. इस दौरान एक पत्रकार वार्ता को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि हमारा व्यवसाय व्यक्तिगत ग्राहकों की सेवा पर टिका है. व्यवयास प्रारंभ करने के लिए हम ऋण उपलब्ध कराते हैं और ग्राहक को जो भी कमियां या समस्याएं महसूस होती हैं, उनका निदान करते हैं.  उन्होंने कहा कि जीएसटी या नोटबंदी का हमारी कंपनी के व्यवसाय पर कोई खास असर नही पड़ा है.

श्रीराम ट्रांसपोर्ट फायनांस कंपनी के मुख्य कार्यकारी अधिकारी उमेश रेवनकर ने कहा कि हम भारत की सबसे बड़ी गैर.बैंकिग फायनांस कंपनी हैं. उनका दावा है कि वे 48 घण्टे के अंदर ग्राहक को ऋण प्रदान करते हैं. इतने समय में सरकारी बैंक मुद्रा लोन भी नही दे पाते. उन्होंने कहा कि हम उन समुदायों के लिए सकारात्मक और स्थायी परिवर्तन लाने के बारे में इच्छुक हैं जो सामाजिक और आर्थिक सुरक्षा के लिए योजनाओं और पहल के हाशिए पर हैं. श्रीराम ट्रांसपोर्ट फायनांस कंपनी सामाजिक और आर्थिक रूप से निचले लोगों की जरूरतों को पूरा करने के लिए शिक्षा, कौशल विकास और स्वास्थ्य सेवाएं संचालित कर रही है.

कंपनी के उप—महाप्रबंधक संजय सिंह भदौरिया ने बताया कि 1979 में स्थापित श्रीराम ट्रांसपोर्ट फायनांस कंपनी लिमिटेड मुख्यत: व्यापारिक वाहनों के फायनांस एवं छोटे ट्रांसपोर्टरों की व्यवसाय से सम्बंधित सभी आवश्यकताओं की पूर्ति हेतु तत्पर फायनांस कंपनी है. उन्होंने कहा कि कंपनी का व्यवसाय छत्तीसगढ़ में 1995 से चल रहा है इसीलिए आज क्षेत्रीय कार्यालय की शुरूआत हुई है.

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने जब कंपनी को याद किया..

जानते चलें कि चंद दिनों पहले ही प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने जब देश के उद्योग और कार्पोंरेट हस्तियों से देश की उदयोग नीतियों पर चर्चा की थी तो उसमें श्रीराम ट्रांसपोर्ट फायनांस कंपनी के प्रबंध निदेशक एवं मुख्य कार्यकारी अधिकारी उमेश रेवनकर को भी बुलाया गया था. यह कंपनी के लिए गौरव की बात थी. रेवनकर का दावा है कि हम भारत की सबसे बड़ी गैर—बैंकिग फायनांस कंपनी हैं और लगातार देश की जनता का दिल जीतकर आगे बढ़ रहे हैं.व्यवसायिक वाहनों के फायनांस के साथ ही व्यवसाय को सुचारु रूप से संचालित करने हेतु एसटीएफसी अपने ग्राहकों को आवश्यतानुसार वाहन बीमा, जीवन बीमा टायर लोन, ईंधन ऋण, फास्टटैग सुविधा एवं ग्राहकों के परिवारजनों को व्यवसाय स्थापित करने हेतु लघु ऋण भी उपलब्ध कराती है.