breaking news New

22 करोड़ की लागत से बन रहा छह माला मल्टीलेवल पार्किंग काम्प्लेक्स, छठवें माले में एक बड़ा रेस्टोरेंट भी, नौ महीने के भीतर होगा तैयार

22 करोड़ की लागत से बन रहा छह माला मल्टीलेवल पार्किंग काम्प्लेक्स, छठवें माले में एक बड़ा रेस्टोरेंट भी, नौ महीने के भीतर होगा तैयार

चमन प्रकाश केयर
रायपुर. राजधानी रायपुर में कलेक्ट्रेट कार्यालय के करीब एक बड़ी मल्टीलेवल पार्किंग का निर्माण किया जा रहा रहा है जिसमे एक साथ करीब 500 वाहनों की बड़ी आसानी से पार्किंग किया जायेगा। इसका निर्माण कार्य तेज़ी के साथ किया जा रहा हैं और बहुत जल्द राजधानी के लोगो को यह सुविधा मिल जाएगी।

राजधानी होने की वजह से दिन ब दिन वाहनों की संख्या में बढ़ोतरी हो रही है। इससे रायपुर नगर निगम क्षेत्र में ट्रैफिक की समस्या आये दिन देखने को मिलती है। इन सब परेशानी से निजात दिलाने के लिए रायपुर नगर निगम शहर को स्मार्ट बनने और लोगो को सुविधाएं देने के लिए नित नए-नए  प्रयास हो रहे हैं. इसी के अंतर्गत 22 करोड़ की लागत से रायपुर स्मार्ट सिटी लिमिटेड द्वारा प्रदेश की दूसरी सबसे बड़ी 6 फ्लोर की मल्टी लेवल पार्किंग कलेक्ट्रेट के सामने बनाई जा रही है।

स्मार्ट सिटी के असिस्टेंट जरनल मैनेजर बी.आर. अग्रवाल ने बताया कि 6 फ्लोर की मल्टी लेवल पार्किंग काम्पलेक्स, स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट के तहत बनाया जा रहा है जिसका निर्माण अगस्त 2020 तक पूरा कर लिया जायेगा। उन्होंने बताया कि 6 फ्लोर की मल्टीलेवल पार्किंग में पांचवें माले तक वाहन पार्क किया जायेगा और छठवें माले में एक बड़ा रेस्टोरेंट भी बनाया जा रहा हैं। इस मल्टीलेवल पार्किंग का काम नौं  महीने  के भीतर पूरा कर लिया जाएगा। जिसमे ग्राउंड फ्लोर सहित छह फ्लोर में सुव्यवस्थित वाहन पार्किंग की सुविधा आने वाले दिनों में लोगों को मिलने लगेगी। उन्होंने बताया कि होमगार्ड कार्यालय का भवन नहीं हटने की वजह से थोड़ा काम में धीमी हो गयी थी लेकिन अब एक हप्ते पहले उसे हटाया जा चूका है, इससे काम में तेज़ी आ गई है.

ऑनलाइन बुक करा सकेंगे पार्किंग
इस मल्टीलेवल पार्किंग की खास बात यह है कि स्मार्ट पार्किंग सॉल्यूशन के हिसाब से लोग घर बैठे अपने मोबाइल से एक एप्प के जरिये अपनी सुविधा अनुसार पार्किंग प्लाट बुक करा सकेंगे। दरअसल राजधानी में पार्किंग की समस्या को दुरुस्त करने के लिए  सुव्यवस्थित वाहन पार्किंग की सुविधा राजधानी वासियों को मिलेगी। होमगार्ड कार्यालय और कलेक्टर परिसर के समीप निर्माणाधीन इस मल्टीलेवल पार्किंग पार्किंग के बन जाने से राजधानी की यह दूसरी सबसे बड़ी पार्किंग होगी। नगर निगम के महापौर प्रमोद दुबे ने बताया कि यहां ग्राउंड फ्लोर सहित छह फ्लोर में 500 से भी अधिक गाड़ियों की आसानी से पार्किंग किया जा सकेगा.

सैनिक कल्याण बोर्ड को कोई आपत्ति नही : महापौर
मल्टीलेवल पार्किंग सैनिक कल्याण बोर्ड परिसर के क्षेत्र से बाहर है इस निर्माण को लेकर बोर्ड की ओर से कोई आपत्ति नहीं है। महापौर प्रमोद दुबे ने कहा कि निर्माण कार्य प्रगति पर है, पार्किंग के बन जाने से कलेक्ट्रेट, कचहरी, जिला पंचायत, सहित सरकारी विभागों और प्राइवेट कार्यालय तथा आसपास के लोगों की पार्किंग की समस्या दूर होगी जिससे सड़क किनारे गाड़ियां पार्क होने से ट्रैफिक की समस्या होती हैं इससे निजात मिल जायेगा।